मौलाना असरारुल हक़ क़ासमी को सुपुर्द- ए- खाक राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा- नीतीश कुमार

मौलाना असरारुल हक़ क़ासमी को सुपुर्द- ए- खाक राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा- नीतीश कुमार

बिहार के किशनगंज से सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का शुक्रवार की सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

गुरुवार की रात कांग्रेस सांसद एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे जहां से लौटकर अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई। गुरुवार की देर रात उन्होंने किशनगंज के सर्किट हाउस में आखिरी सांस ली। सुपुर्द-ए-खाक की रस्म उनके पैतृक गांव ताराबाड़ी में अदा की जाएगी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मौलाना असरारुल हक कासमी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया। साथ ही नीतीश कुमार ने कहा कि उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

उन्होंने दुख की इस घड़ी में सांसद के परिजनों को शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए सांसद के निधन पर शोक व्यक्त किया। गौरतलब है कि मौलाना हक ने कई बार चुनाव लड़े लेकिन पहली बार वर्ष 2009 में सांसद चुने गए।

इसके बाद वर्ष 2014 में मोदी लहर के बावजूद उन्होंने भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ भारी मतों के अंतर से जीत दर्ज की थी। 15 जनवरी 1942 को जन्मे मौलाना हक का किशनगंज में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की स्थापना करने में उल्लेखनीय योगदान रहा।

साभार- ‘पंजाब केसरी’

Top Stories