Saturday , January 20 2018

म्यांमार: मदद करने के लिए सामने आया ईरान, शिया डॉक्टर सुन्नी अल्पसंख्यकों का करेंगे इलाज

बर्माः ईरान के एक अधिकारी का कहना है कि ईरान ने म्यांमार मुसलमानों की जरूरतों को पूरा करने के लिए डॉक्टरों को भेजने और एक अस्थायी अस्पताल बनाने की तैयारी कर ली है।

ईरान के एक वरिष्ठ अधिकारी ईब्राहिम रहिंपुर ने कहा, “संसद की गर्मी की छुट्टियों के बावजूद, ईरान के सांसदों ने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों की स्थिति पर चर्चा करने और ईरान के सख्त अल्पसंख्यकों तक पहुंचने वाले उपायों पर चर्चा करने के लिए एक बैठक आयोजित की है।”

उन्होंने कहा, “तेहरान ने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के लिए सहायता शिपमेंट तैयार कर लिए हैं।”

ईब्राहिम रहिंपुर ने आगे बताया कि, “पहली (सहायता) का कन्साइनमेंट शुक्रवार को आर्कन क्षेत्र में भेज दिया जाएगा। इस संबंध में म्यांमार और बांग्लादेश की सरकारों के साथ बातचीत हुई है, और हम उड़ान परमिट की प्रतीक्षा कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “इसके अलावा, कुछ व्यक्तियों को स्थिति का आकलन करने के लिए क्षेत्र में भेजा जाएगा और यह देखना है कि राहत कार्यों को बेहतर कैसे करना है। कुछ डॉक्टर रोहिंग्या मुसलमानों की देखभाल करने के लिए वहां जाएंगे; हमने वहां एक अस्थायी अस्पताल बनाने का भी फैसला किया है।”

ईब्राहिम रहिंपुर ने बताया, “म्यांमार में सुन्नी अल्पसंख्यकों की मदद करके ईरान यह दिखा रहा है कि उनके लिए दुनिया भर के सभी मुसलमान बराबर हैं, और म्यांमार सरकार को यह एहसास होना चाहिए कि वह गलत रास्ते पर चल रही है।”

TOPPOPULARRECENT