मग़रिबी बंगाल की कन्या श्री स्कीम को बैनुल-अक़वामी सताइश

मग़रिबी बंगाल की कन्या श्री स्कीम को बैनुल-अक़वामी सताइश
मग़रिबी बंगाल की ममता बनर्जी हुकूमत कीआग़ाज़ करदा स्कीम कन्या श्री जिस का मक़सद बच्चीयों को तरग़ीबात पेश करना है। बर्तानिया की जानिब से सताइश की मुस्तहिक़ बन चुकी है। मग़रिबी बंगाल के वज़ीर बराएतरक़्क़ी ख़वातीन और समाजी बहबूद शशी पांज

मग़रिबी बंगाल की ममता बनर्जी हुकूमत कीआग़ाज़ करदा स्कीम कन्या श्री जिस का मक़सद बच्चीयों को तरग़ीबात पेश करना है। बर्तानिया की जानिब से सताइश की मुस्तहिक़ बन चुकी है। मग़रिबी बंगाल के वज़ीर बराएतरक़्क़ी ख़वातीन और समाजी बहबूद शशी पांजा ने आज असेम्बली में कहा कि कन्या श्री स्कीम को बैनुल-अक़वामी सताइश हासिल होरही है, वो उन के महिकमों और बजट के बारे में मुबाहिस का जवाब दे रही थीं।

शशी पांजा ने कहा कि स्कीम में लंदन में 22 जनवरी को मुक़र्रर बच्चीयों के मौज़ू पर चोटी कान्फ्रेंस में एक माम‌ला मुशाहिदा के लिए पेश करने का मंसूबा बनाया है। एक लड़की ने 18 साल की उम्र तक अपनी तालीम जारी रखी थी जिसे बैयकवक़त 25 हज़ार रुपये की रक़म इस के बैंक अकाउंट में जमा करदी गई बशर्तिके वो इस उम्र से पहले शादी ना करे।

हुकूमत 13 और 18 साल की दरमियानी उम्र की लड़कीयों को 500 रुपये सालाना वज़ीफ़ा देगी ताकि वो आठवीं जमात से बारहवीं जमात तक अपनी तालीम जारी रखें और शादी ना करें बशर्तिके उन के वालदैन की सालाना आमदनी एक लाख 20 हज़ार रुपये से कम हो।

Top Stories