Thursday , December 14 2017

मग़रिबी बंगाल में ख्वातीन के ख़िलाफ़ जराइम में इज़ाफ़ा : NCW

नैशनल कमीशन फ़ार वूमेन (NCW) के मुताबिक़ रियासत ( राज्य) मग़रिबी ( पश्चिम) बंगाल में ख्वातीन (औरतों) के ख़िलाफ़ जराइम ( अपराध) में इज़ाफ़ा हुआ है और वो भी एक ख़ातून वज़ीर-ए-आला ( मुख्य मंत्री) ममता बनर्जी की हुकूमत में, ममता बनर्जी को ऐसे पुलिस आफ़िस

नैशनल कमीशन फ़ार वूमेन (NCW) के मुताबिक़ रियासत ( राज्य) मग़रिबी ( पश्चिम) बंगाल में ख्वातीन (औरतों) के ख़िलाफ़ जराइम ( अपराध) में इज़ाफ़ा हुआ है और वो भी एक ख़ातून वज़ीर-ए-आला ( मुख्य मंत्री) ममता बनर्जी की हुकूमत में, ममता बनर्जी को ऐसे पुलिस आफ़िसरान ( अधीकारी) के तबादले करने पर शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया जिन्होंने इस्मत रेज़ि (बलात्कार Rape) के कई जराइम का पर्दा फ़ाश किया ।

NCW सदर नशीन ममता बनर्जी ने कहा कि रियास्ती हुकूमत ने ख्वातीन के ख़िलाफ़ तमाम जराइम (अपराध) की ग़ैर जांबदाराना तहक़ीक़ात का वायदा किया था लेकिन अब देखना ये है कि हुकूमत अपने वायदा की तकमील (पूर्ती/पूरा करना) करती है या नहीं । एक ख़बररसां एजेंसी को इंटरव्यू के दौरान ममता बनर्जी ने कहा कि यूं तो रियासत (राज्य) मग़रिबी बंगाल में ख्वातीन के ख़िलाफ़ जराइम में हर रोज़ इज़ाफ़ा हो रहा है लेकिन मौजूदा हुकूमत की कारकर्दगी के आख़िरी दो माह का जायज़ा लिया जाए तो पता चलेगा कि जराइम में बेतहाशा इज़ाफ़ा हुआ है ।

NCW की ताज़ा तरीन रिपोर्ट के मुताबिक़ रियासत मग़रिबी बंगाल में इस्मत रेज़ि (बलात्कार) के वाक़्यात ( घटना) में इतना इज़ाफ़ा हो चुका है जो क़ौमी सतह की औसत से भी ज़्यादा है । बहरहाल ममता शर्मा ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि इस्मत रेज़ि के वाक़्यात ( घटनाओं) में इज़ाफ़ा का तज़किरा (ज़िक़्र्/चर्चा) करते हुए वो ये हरगिज़ कहना नहीं चाहतीं कि रियासत में ममता बनर्जी की क़ियादत में ख्वातीन( औरतें) ग़ैर महफ़ूज़ (असुरक्षित) हैं ।

TOPPOPULARRECENT