Friday , December 15 2017

मग़रिबी ममालिक और इरान के दरमियान एटमी मुआहिदा

श्रीनगर 18 जुलाई :चीफ मिनिस्टर जम्मू-ओ-कश्मीर मुफ़्ती मुहम्मद सय्यद ने 6 आलमी ताक़तों के साथ इरानी जौहरी मुआहिदे का ख़ैर मुक़द्दम किया है और बताया कि आलमी और इलाक़ाई सलामती के इस्तेहकाम का बाहमी ताल्लुक़ात की यकसूई के लिये मुज़ाकरात ही वाहिद तरीका कार है।

मुफ़्ती मुहम्मद सय्यद ने एक सहाफ़ती बयान में कहा कि हम तारीख़ी एटमी मुआहिदे का ख़ैर मुक़द्दम करते हैं जिस के बाइस बाक़ीमांदा दुनिया के साथ तहरान के ताल्लुक़ात में नए बाब का आग़ाज़ होगा।

उन्होंने ये उम्मीद ज़ाहिर की के ये मुआहिदा , सालहा साल से जारी गैर यक़ीनी सूरत-ए-हाल का ख़ातमा और मग़रिब के साथ इरान के ताल्लुक़ात में नई जिहत का नुक़्ता आग़ाज़ साबित होगा।

चीफ मिनिस्टर ने इन तमाम लीडरों की कोशिशों की सताइश की जिन्होंने एटमी तात्तुल पर इरान और मग़रिबी ममालिक के दरमियान तसादुम का सियासी और सिफ़ारती हल तलाश किया।

TOPPOPULARRECENT