Monday , December 18 2017

मज़हबी कारकुनों पर हमले के बाद क़ौमी शाहराह की नाकाबंदी

एक बरहम हुजूम ने दिल्ली । यमनोत्री क़ौमी शाहराह की नाकाबंदी करदी जबकि एक मज़हबी तहरीक के तीन कारकुनों को मुबय्यना तौर पर बाअज़ नामालूम अफ़राद ने ज़िला शामली के क़स्बा कानधला के पास ज़द्द-ओ-कूब किया।

एक बरहम हुजूम ने दिल्ली । यमनोत्री क़ौमी शाहराह की नाकाबंदी करदी जबकि एक मज़हबी तहरीक के तीन कारकुनों को मुबय्यना तौर पर बाअज़ नामालूम अफ़राद ने ज़िला शामली के क़स्बा कानधला के पास ज़द्द-ओ-कूब किया।

मुर्तुज़ा हुसैन, इमरान नदवी और तहसील अहमद तीनों तब्लीग़ी जमात के कारकुन है, जो क़स्बा कानधला जा रहे थे जबकि बाअज़ नामालूम अफ़राद ने उन्हें उनकी गाड़ी से खींच कर बाहर निकाला और उन्हें ज़द्द-ओ-कूब किया। तीनों मुतास्सिरा नौजवान बिहार के मुतवत्तिन है जिन्हें फ़ौरी हॉस्पिटल मुंतक़िल किया गया।

पुलिस के बमूजब इस वाक़िये के बाद उनके फ़िर्क़ा के बरहम हुजूम ने दिल्ली । यमुनोत्री क़ौमी शाहराह की कानधला के मुक़ाम पर कुछ देर केलिए नाका बंदी करते हुए ख़ातियों की गिरफ़्तारी का मुतालिबा किया।एक इबादतगाह की केवल नगर के इलाक़े में बेहुर्मती करदी जिस की वजह से इस इलाक़ा में कशीदगी फैल गई और नियम फ़ौजी फ़ोर्स तायनात करदी गई।

TOPPOPULARRECENT