Tuesday , January 23 2018

मज़ार-ए-शरीफ़ में जर्मन दूतावास पर फिदायीन हमला, 2 मरे

अफ़गानिस्तान के उत्तरी शहर मज़ार-ए-शरीफ़ आत्मधाती हमला हुआ है। गुरूवार को यह हमला जर्मन वाणिज्य दूतावास में हुआ। इसमें कम से कम दो लोगों की मौत हो गई है। ये हमला रात करीब 11 बजे हुआ। स्थानीय पुलिस प्रमुख सैयद कमाल सादात ने बताया कि आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक से लदी एक कार जर्मन वाणिज्य दूतावास में घुसा दी।

अस्पताल के अधिकारी के मुताबिक हमले में घायल लगभग 80 लोग अस्पताल में लाया गया है। इस हमले की ज़िम्मेदारी तालिबान ने ली है। खबरों के अनुसार तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। यह हमला इस महीने की शुरुआत में कुंदूज़ में गठबंधन सेनाओं के हमले का बदला लेने के लिए किया है। उस हमले में कथित तौर पर 32 नागरिक भी मारे गए थे।

उज़्बेकिस्तान की सीमा से लगा मज़ार-ए-शरीफ़ अफ़गानिस्तान का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। इस शहर के बाहर नैटो का एक कैंप हैं जिसकी कमान जर्मनी के हाथों में है। नैटो के एक प्रवक्ता के मुताबिक गठबंधन सेना इस घटना की जांच कर रही हैं।

TOPPOPULARRECENT