Friday , December 15 2017

यमन के सुन्नी मुदर्रिसा पर हमला, 20 हलाक

सनआ-28 नवंबर (ए एफ़ पी) शीया बाग़ीयों ने 20 अफ़राद को हलाक और दीगर 70 को ज़ख़मी करदिया। जबकि उन्हों ने सुनी दीनी मुदर्रिसा वाक़्य शुमाली यमन पर हमला किया। कबायली ज़राए ने आज कहा कि दारउलहदीस दीनी मुदर्रिसा पर जो दमाई मैं मुबल्लग़ीन की तर्बीय

सनआ-28 नवंबर (ए एफ़ पी) शीया बाग़ीयों ने 20 अफ़राद को हलाक और दीगर 70 को ज़ख़मी करदिया। जबकि उन्हों ने सुनी दीनी मुदर्रिसा वाक़्य शुमाली यमन पर हमला किया। कबायली ज़राए ने आज कहा कि दारउलहदीस दीनी मुदर्रिसा पर जो दमाई मैं मुबल्लग़ीन की तर्बीयत करता है हमला किया गया था। ये इलाक़ा शीया मुसहतकम गढ़ सदा के मुज़ाफ़ात में है। दार उलहदीस में यमन और दीगर कई ममालिक से तलबा-ए-ज़ेर-ए-तालीम हैं।

जिन्हें शीया होती जिन की शुमाली इराक़ में ग़ालिब आबादी है, अपने लिए ख़तरा समझते हैं। दार अलहदीस के एक वसताद ने अपनी शनाख़्त पोशीदा रखने की शर्त पर ए एफ़ पी से कहा कि होतियों ने दीनी मदरसा के अतराफ़ इलाक़ा की गुज़श्ता दो हफ़्तों से नाका बंदी कर रखी थी और 10 हज़ार अफ़राद को ग़िज़ा की सरबराही बंद करदी थी। इन इत्तिलाआत की फ़ौरी तौर पर तौसीक़ नहीं होसकी।

कबायली ज़राए ने कहा कि होतियों ने शेमाली यमन पर अपनी गिरिफ़त हालिया महीनों में मज़बूत करली है जिस की वजह मुख़ालिफ़ हुकूमत शोरिश हैं जिस की वजह से कई फ़ौजी सरकारी फ़ौज से इन्हिराफ़ करके अवामी एहतिजाज में शामिल होगए हैं।

TOPPOPULARRECENT