यमन में बच्चे शदीद ख़तरात से दोचार – यूनीसेफ़

यमन में बच्चे शदीद ख़तरात से दोचार – यूनीसेफ़
Click for full image

अक़वामे मुत्तहिदा के इदारा बराए इतफ़ाल ने कहा है कि यमन में चार माह से जारी तनाज़ा से जहां इन्सानी अलमीया के ख़द्शात ने जन्म लिया है वहीं यहां बच्चों और नौजवानों के लिए सूरते हाल मुश्किल तरीन होती जा रही है। यूनीसेफ़ की अपनी एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा है कि मार्च में हूसी बाग़ीयों और सऊदी ज़ेरे क़ियादत इत्तिहाद के दरमयान जारी लड़ाई में अब तक लग भग 400 बच्चे हलाक और 600 ज़ख़्मी हो चुके हैं। अरब दुनिया के इस पसमांदा तरीन मुल्क के रहने वालों को ख़ुराक, पीने के साफ़ पानी और सेहत आम्मा की शदीद कमी का सामना है। बहुत से लोग बेघर हो चुके हैं जब कि बच्चों की एक काबिले ज़िक्र तादाद स्कूल नहीं जा पा रही। यूनीसेफ़ के मुताबिक़ एक करोड़ बच्चों को हंगामी तौर पर इमदाद की ज़रूरत है।

Top Stories