Monday , December 18 2017

यमन युद्ध को जारी रखने के लिए सउदी मुफ़्ती ने लगाई चंदे की गुहार

सऊदी अरब : यमन पर सऊदी अरब द्वारा द्वारा थोपे गए युद्ध के कारण इस देश के प्रमुख मुफ़्ती ने अपने अनुयाइयों और व्यापारियों से सऊदी शासन की चंदे से मदद करने की गुहार लगाई है। इस मुफ़्ती का कहना है कि जनता, सरकार की सहायता के लिए आगे आए ताकि यमन युद्ध को जारी रखा जा सके।

सऊदी मुफ़्ती शैख़ अब्दुल अज़ीज़ अश्शैख़ ने अपने अनुयाइयों से दक्षिण पश्चिमी सीमावर्ती क्षेत्रों नजरान, असीर और जीज़ान में तैनात सैनिकों के लिए चंदा इकट्ठा करने की अपील की। इस सऊदी मुफ़्ती ने चंदा देने वालों के प्रयासों को पवित्र कर्म की संज्ञा दी। उल्लेखनीय है कि यमन पर सऊदी अरब द्वारा की गई चढ़ाई के बाद से रेयाज़ को नित नए संकटों का सामना है जिनमें आर्थिक संकट सर्वोपरि है।

ज्ञात रहे सऊदी धर्मगुरुओं द्वारा दिए गए फ़त्वे, वहाबी विचारधारा पर आधारित होते हैं जो इस्लाम की मूल शिक्षाओं के ख़िलाफ़ होते हैं। वहाबी विचारधारा का मुखौटा तकफ़ीरी आतंकवाद है जिसका अनुसरण दाइश जैसे आतंकी गुट करते हैं।

कुछ वहाबी फ़त्वों के नमूने इस प्रकार हैं। पुरुष को अपनी बीवी को संदेश भेज कर तलाक़ देने का अधिकार हासिल है। पिता और बेटी एक साथ एक समय में एक घर में नहीं रह सकते।

TOPPOPULARRECENT