यमन: हुकूमत और हूसी बाग़ीयों में अमन मुज़ाकरात का आग़ाज़

यमन: हुकूमत और हूसी बाग़ीयों में अमन मुज़ाकरात का आग़ाज़
Click for full image

यमन में एक हफ़्ते की जंग बंदी के आग़ाज़ के बाद अक़वामे मुत्तहिदा की निगरानी में जिनेवा में तनाज़ा के हल के लिए अमन मुज़ाकरात का आग़ाज़ हो गया है।
अक़वामे मुत्तहिदा के सेक्रेट्री जेनरल बान्की मून ने अमन मुज़ाकरात का ख़ैर मक़्दम करते हुए कहा है कि महीनों से जारी ख़ानाजंगी के ख़ातमे की वाहिद राह मुज़ाकरात ही हैं। आलमी इदारे के सरब्राह ने तमाम फ़रीक़ों पर ज़ोर दिया है कि वो तनाज़ा के मुशकिल हल के लिए मिलकर काम करें।

यमन के वज़ीरे आज़म ख़ालिद बहा ने बातचीत के आग़ाज़ पर उम्मीद ज़ाहिर की है कि इस के ज़रीए यमन एक नई शक्ल में सामने आएगा। उन्होंने कहा कि मशरिक़े वुस्ता के दीगर ममालिक मसलन शाम और लीबा के बरअक्स यमन में सूरते हाल ज़्यादा उम्मीद अफ़्ज़ा है।

Top Stories