Tuesday , December 12 2017

यशवंत सिन्हा का जीएसटी पर हमला, कहा प्रधानमंत्री जेटली को उनके पद से हटाए

भारतीय जनता पार्टी के नेता यशवंत सिन्हा ने शुक्रवार को सरकार पर एक नए हमला बोलते हुए कहा की वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) को लागू करते हुए अपना दिमाग़ नहीं लगाया था उनको पद से हटा दिया जाना चाहिए।

अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री के रूप में सेवा करने वाले सिन्हा ने कहा कि नोटबंदी भी सिस्टम से काले धन को ख़त्म करने का अपना लक्ष्य पूरा नहीं कर पायी है।

उन्होंने सरकार को नोट प्रतिबंध और नयी कर व्यवस्था को झूट बोल कर लागू करने का आरोप लगाया।

बिहार के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी द्वारा आयोजित एक बैठक के दौरान सिन्हा ने संवाददाताओं से कहा था कि “वित्त मंत्री ने सामान और सेवा करों को लागू करते हुए अपना दिमाग़ नहीं लगाया था और यही वजह है कि वह हर रोज़ जीएसटी में बदलाव कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, जेटली ने जीएसटी के साथ बड़ी गड़बड़ी की है। “प्रधान मंत्री को एक नए वित्त मंत्री को लाना चाहिए मैं पूरी जिम्मेदारी से यह कह रहा हूं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री की टिप्पणी उस दिन आयी है जिस दिन जेटली ने गुवाहाटी में कई घरेलू सामानों पर 28 प्रतिशत की स्लैब से 18 प्रतिशत तक की कर दर को कम करने के लिए जीएसटी परिषद की अध्यक्षता की थी ।

सिन्हा ने कहा कि “अब सरकार कह रही है कि 227 वस्तुओं में से, कर की दर लगभग 200 वस्तुओं पर 28 से 18 प्रतिशत नीचे लाई जाएगी उन्होंने पूछा कि क्या इस कमी से राजस्व संग्रह में गिरावट आएगी।

सिन्हा ने आरोप लगाया कि “जीएसटी की वर्तमान संरचना एक ग़लत है और यही वजह है कि सरकार हर रोज संशोधन कर रही है,” सिन्हा ने आरोप लगाया।

 

TOPPOPULARRECENT