यादगिरी का हमला-आवर से कोई ताल्लुक़ नहीं

यादगिरी का हमला-आवर से कोई ताल्लुक़ नहीं
Click for full image

हैदराबाद 15 अगस्त: सिकंदराबाद के इलाके क़दीम बोइनपल्ली के एक कांग्रेस लीडर डी यादगिरी जो हफ़्ते की सुबह एक जाने पहुंचाने शख़्स की शूटिंग में ज़ख़मी हो गए थे, कहा कि हमला-आवर से उनका कोई ताल्लुक़ नहीं है। यादगिरी ने एक टेलीविज़न चैनल से बात करते हुए कहा कि उनका इस हमला-आवर से कोई ताल्लुक़ नहीं रहा लेकिन हमला-आवर का बरादर-ए-निसबती हस्ब-ए-ज़रूरत उनसे रुजू हो कर रक़म वसूल किया करता था।

यादगिरी ने कहा कि हमला-आवर से उन्हें और उनके अरकाने ख़ानदान की जानों को ख़तरा लाहक़ है और उन्होंने हुकूमत से तहफ़्फ़ुज़-ओ-सलामती फ़राहम करने की दरख़ास्त की। यादगिरी ने कहा कि मैं ने सख़्त मज़ाहमत की और हमला-आवर से बंदूक़ छीन कर पुलिस मदद के लिए 100 नंबर पर डायल किया और हॉस्पिटल का अमला जमा होने के बाद ही में बाथरूम से बाहर आया। यादगिरी ने कहा कि हथियारों को वो अपने पास रखा ताकि पुलिस को बताया जा सके।। डाक्टरों ने कहा कि यादगिरी करिश्माती तौर पर बच गए हैं क्युं कि बंदूक़ की एक गोली उनके दिल के क़रीब जिल्द से टकरा कर गुज़र गई थी।

Top Stories