याददाश्त तेज़कर ना हो तो नींद पूरी करें: तहक़ीक़ी रिपोर्ट

याददाश्त तेज़कर ना हो तो नींद पूरी करें: तहक़ीक़ी रिपोर्ट
एक हालिया साईंसी तहक़ीक़ के मुताबिक़ नींद की कमी याददाश्त पर असर अंदाज़ होती है और बेहतर हाफ़िज़े के लिए नींद पूरी करना निहायत अहम है। अमरीका में की गई इस तहक़ीक़ के मुताबिक़ स्कूल जाने वाले वो बच्चे जो रात की नींद लेते हैं वो स्क

एक हालिया साईंसी तहक़ीक़ के मुताबिक़ नींद की कमी याददाश्त पर असर अंदाज़ होती है और बेहतर हाफ़िज़े के लिए नींद पूरी करना निहायत अहम है। अमरीका में की गई इस तहक़ीक़ के मुताबिक़ स्कूल जाने वाले वो बच्चे जो रात की नींद लेते हैं वो स्कूल में ज़्यादा तेज़ी से अपना सबक़ याद कर लेते हैं।

माहिरीन का ये भी कहना है रात में मुकम्मल नींद लेने से बच्चों में ना सिर्फ़ अगले दिन दिमाग़ तर-ओ-ताज़ा रहता है बल्कि नींद के दौरान दिमाग़ में इसी सबक़ को दुहराने का अमल भी जा री रहता है और यूं उस दिन का सबक़ बेहतर तौर पर ज़हन नशीन भी हो जाता है।

Top Stories