Thursday , April 19 2018

यासीन भटकल की इत्तेला देने पर 10 लाख का ऐलान

मुंबई, 12 फरवरी: (पी टी आई) महाराष्ट्रा इन्सिदाद-ए-दहशत गर्दी स्क्वाएड (ए टी एस) ने 13 जुलाई 2011 को वस्ती मुंबई में दादर के मुक़ाम पर बम नसब करने के बारे में लब कुशाई से गुरेज़ किया था लेकिन आज इसने ये इन्किशाफ़ किया कि इंडियन मुजाहिदीन के कार

मुंबई, 12 फरवरी: (पी टी आई) महाराष्ट्रा इन्सिदाद-ए-दहशत गर्दी स्क्वाएड (ए टी एस) ने 13 जुलाई 2011 को वस्ती मुंबई में दादर के मुक़ाम पर बम नसब करने के बारे में लब कुशाई से गुरेज़ किया था लेकिन आज इसने ये इन्किशाफ़ किया कि इंडियन मुजाहिदीन के कारकुन तहसीन अख़्तर वसीम ने ये कार्रवाई की है।

ए टी एस ने दादर बम नसब करने वाले का नाम तहसीन अख़तर वसीम उर्फ़ मोनू उर्फ़ हसैन क़रार देते हुए इसका और दीगर 3 अफ़राद बिशमोल इंडियन मुजाहिदीन सरबराह यसीन भटकल का पता बताने या उनके बारे में इत्तिला देने पर 10 लाख रुपय नक़द इनाम का ऐलान किया है ।

यसीन भटकल मुबय्यना तौर पर सिलसिला वार दहशतगर्दी मुक़द्दमात में मुलव्वस है। महाराष्ट्रा ए टी एस सरबराह राकेश मारिया ने कहा कि तहसीन (3 साल) का ताल्लुक़ समस्तीपुर , बिहार से है। इसने दादर में बम नसब किया था । वो दरभंगा से इंडियन मुजाहिदीन के मंसूबा का एक हिस्सा था।

13 जुलाई 2011 को ओपेरा , ज़ावेरी बाज़ार और दादर वेस्ट में 3 बम हमले हुए जिसमें 27 अफ़राद हलाक और 130 ज़ख़मी हो गए थे । इस सिलसिला में ख़ुसूसी मकोका अदालत में गुज़श्ता साल माह मई में 4000 सफ़हात से ज़ाइद पर मुश्तमिल चार्ज शीट पेश की गई थी ।

इस मुक़द्दमा में अब तक कई गिरफ्तारियां अमल में आ चुकी हैं और 6 मफ़रूर मुल्ज़िमीन का ताल्लुक़ इंडियन मुजाहिदीन से बताया गया है । इब्तेदा में ये कहा गया था कि असदुल्लाह अख़्तर जावेद उर्फ़ तबरेज़ और वक़ास दोनों पाकिस्तानी हो सकते हैं लेकिन ए टी एस ने अब ये वाज़िह कर दिया है कि इनका ताल्लुक़ आज़मगढ़, उत्तर प्रदेश से है।

ए टी एस के मुताबिक़ असदुल्लाह और वक़ास ने ज़ावेरी बाज़ार और ओपेरा में बम नसब किए थे ।

TOPPOPULARRECENT