यूएई में आईपीएल:गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग 2 अगस्त को, इसी दिन टूर्नामेंट का शेड्यूल और मैच का समय फाइनल होगा

यूएई में आईपीएल:गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग 2 अगस्त को, इसी दिन टूर्नामेंट का शेड्यूल और मैच का समय फाइनल होगा

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग 2 अगस्त को होगी। इस मीटिंग में यूएई में होने वाली लीग के शेड्यूल को फाइनल करने के साथ ही मैच का टाइमिंग भी तय होगी। इसके अलावा लीग से जुड़े बाकी इंतजाम पर बात होगी। आईपीएल चेयरमैन ब्रजेश पटेल ने भी न्यूज एजेंसी से 2 अगस्त को गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग की पुष्टि की है।

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए ही इस बार यूएई में आईपीएल कराने का फैसला लिया गया। लीग 19 सितंबर से 8 नवंबर तक चलेगी। 51 दिन में 8 टीमों के बीच 60 मैच खेले जाएंगे, सभी मुकाबले यूएई के तीन स्टेडियम में होंगे।

फ्रेंचाइजियों को एसओपी के बारे में जानकारी दी जाएगी

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एजेंसी को बताया कि आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में सभी आठों फ्रेंचाइजी को स्टैंडर्ड आॉपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) के बारे में जानकारी दी जाएगी।

गांगुली और जय शाह का कार्यकाल खत्म
आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह के भी शामिल होने की संभावना है। गांगुली और शाह दोनों के कार्यकाल खत्म हो चुके हैं। बोर्ड अध्यक्ष के रूप में गांगुली का कार्यकाल एक दिन पहले, जबकि शाह का कार्यकाल मई में ही खत्म हो चुका है।

गांगुली ने सुप्रीम कोर्ट से कूलिंग ऑफ पीरियड में ढील देने की मांग की

गांगुली पिछले साल अक्टूबर में बोर्ड अध्यक्ष बने थे। बीसीसीआई के संविधान के मुताबिक, भारतीय क्रिकेट प्रशासन में लौटने के लिए अब उनको 3 साल का ब्रेक लेना होगा। लेकिन दोनों ने सुप्रीम कोर्ट से लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के तहत कूलिंग ऑफ पीरियड में ढील देने की मांग की है। इस मामले पर 17 अगस्त को सुनवाई होगी।

एक दिन में दो मैच कम होंगे
इस बार आईपीएल में एक दिन में दो मैच कम होंगे, जिससे ब्रॉडकास्टर को फायदा होगा। इस बार लीग के सभी मैच खाली स्टेडियम में बायो सिक्योर माहौल में होंगे। ऐसे में फ्रेंचाइजी को टिकटों की बिक्री, मर्चेंडाइज से होने वाली कमाई नहीं होगी। ऐसे में इसकी भरपाई कैसे होगी, इसे लेकर भी मीटिंग में बात होगी। अधिकतर फ्रेंचाइजी आने वाले कुछ दिनों के भीतर ही अपनी टीमों को यूएई भेजेंगी, ताकि वहां उपलब्ध सुविधाओं के अलावा बायो सिक्योर माहौल की जानकारी जुटा सकें।

5 रविवार को ही दो मैच खेले जाएंगे

जानकारी के मुताबिक, पुराने फॉर्मेट की तरह ही 60 मैच होंगे। हर टीम 14-14 मैच खेलेगी। पुराने शेड्यूल में सिर्फ 5 रविवार को ही दो मुकाबले होने थे। नए शेड्यूल के हिसाब से 7 हफ्ते के विंडो में सिर्फ 5 दिन ही डबल हेडर (एक दिन में दो मुकाबले) होंगे।

बीसीसीआई खिलाड़ियों को छूट देने पर विचार कर रही

सभी 8 टीमों के प्री-टूर्नामेंट ट्रेनिंग कैंप यूएई में बायो-सिक्योर माहौल में होंगे। बायो-सिक्योर माहौल के तहत खिलाड़ी टूर्नामेंट के दौरान अपने परिवार से भी नहीं मिल सकेंगे। सभी को होटल के कमरे से बाहर निकलने की भी अनुमति नहीं होगी। हालांकि, बीसीसीआई खिलाड़ियों को इस नियम में थोड़ी छूट देने को लेकर विचार कर रही है।

बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि सामान्य हालात में पत्नियां या गर्लफ्रेंड खिलाड़ियों के साथ टूर्नामेंट के दौरान भी रह सकती थीं, लेकिन इस बार हालात कुछ अलग हैं। अगर परिवार साथ रहना भी है, तो उन्हें भी गाइडलाइंस का पालन करना होगा और होटल के कमरे में ही बंद रहना होगा। हालांकि, कुछ प्लेयर्स के छोटे बच्चे हैं, जिन्हें दो महीने कमरे में नहीं रखा जा सकता।

क्या होता है बायो सिक्योर माहौल?
बायो सिक्योर माहौल खतरनाक वायरस (यहां कोरोनावायरस को लेकर) की शुरुआत या उसके संक्रमण को फैलने से रोकने के तरीकों में से एक है। इसका उद्देश्य वायरस, बैक्टीरिया और सूक्ष्म जीवों के कारण लोगों या जानवरों के संक्रमित होने या जोखिम को कम करना है। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने इसी तरह का एक सेटअप तैयार किया है।

स्टेडियम से लेकर होटल के कमरे तक सैनिटाइज करने के अलावा खिलाड़ियों, संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए कड़े नियम बनाए गए हैं। वहां, खिलाड़ी जो एक्रिडिटेशन कार्ड पहनकर घूमते हैं, उसमें एक माइक्रो चिप लगी है। इससे उनके मूवमेंट पर नजर रखी जाती है।

Top Stories