Friday , November 24 2017
Home / Entertainment / यूक्रेन की “जमाला” बनी “यूरो विज़न” की विजेता

यूक्रेन की “जमाला” बनी “यूरो विज़न” की विजेता

स्टोकहोम: यूक्रेन की जमाला ने इस साल के सिंगिंग का “यूरो विजन” प्रतियोगिता जीत लीया है। यह प्रतियोगिता स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में आयोजित हुआ था। रूस के प्रमुख जोसेफ स्टालिन के शासनकाल में होने वाली नरसंहार पर आधारित गीत ‘1944’ पर यूक्रेन को 534 अंक मिले।

ऑस्ट्रेलिया 511 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर जबकि फ्युर्ट रूस 491 अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहा।ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व करने वाले जो एंड जैक को ‘यू आर नॉट इल्विन’ गीत के लिए 62 अंक मिले और ब्रिटेन 24 वें स्थान पर रहा।

जमाला इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाली आज तक की एकमात्र कराईमयाई तातारी हैं और उनके राजनीतिक गीत पर शो से पहले ही विवाद खड़ा हो गया था। इसमें वर्ष 1944 की ओर इशारा किया गया है जब स्टालिन ने जाति के आधार पर कई लोगों को यूक्रेन के क्षेत्र क्राइमिया भेज दिया था। गायिका जमाला ने इस गीत को अपनी परदादी के नाम मंसूब किया जिन्हें ढाई लाख तातारियों के साथ विस्थापन पर मजबूर होना पड़ा था।

इस गीत के बारे में विचार व्यक्त किया जा रहा था कि यह पहले तीन गीतों में होगा लेकिन प्रतियोगिता के परिणाम ने सबको हैरान कर दिया क्योंकि उसने फ्युर्ट रूस को पीछे छोड़ दिया। रूस ने वर्ष 2014 में अपराध को यूक्रेन से छीन कर अपने देश में मिला लिया था और वह इस गीत के खिलाफ था।

पुरस्कार प्राप्त करते हुए फर्त भावनाओं से अभिभूत जमला ने वोट के लिए यूरोप का धन्यवाद दिया और कहा, “मैं सचमुच शांति और हर किसी के लिए प्यार चाहती हूँ।  अपनी जीत के बारे में उन्होंने बाद में कहा, ‘यह आश्चर्यजनक था। मुझे यकीन था कि अगर आप सच बात करेंगे तो वह लोगों के दिलों को छू जाएगी। ‘

इस साल अंक स्कोरनग का नया तरीका पेश किया गया था और पिछले वर्षों के विपरीत हर देश के जूरी और जनता के लिए अलग से अंक रखा गया था। जूरी के वोटों के आधार पर ऑस्ट्रेलिया यूक्रेन से बहुत आगे था लेकिन दामी उम के गीत ‘साउंड ऑफ साइलनस’ लोगों के दिलों को छुआ तक नहीं और समग्र चौथे स्थान पर रहा। नए स्कोरनग सिस्टम ने जूरी और जनता की पसंद के बीच बड़े अंतर को स्पष्ट किया है।

TOPPOPULARRECENT