Sunday , May 27 2018

यूनान के लिए बेल आउट पैकेज की उसूली मंज़ूरी

यूरोपीय कमीशन ने कहा है यूनान का अपने मआशी बोहरान पर क़ाबू पाने के लिए क़र्ज़ ख़्वाहों के साथ उसूली समझौता तय पा गया है। कमीशन ने कहा है कि यूनान के साथ टेक्नीकल समझौता तय पा गया है जिसे अब सियासी मंज़ूरी की ज़रूरत है।

यूनान की वज़ारते ख़ज़ाना ने मंगल को एथेन्स में यूरोपीय यूनीयन और आई एम एफ़ से होने वाले इस समझौते का ऐलान किया। ये समझौता तवील और एक इंतिहाई दुशवार मुज़ाकराती अमल के बाद मुम्किन हो सका है।

समझौते में तय पाने वाले माली पैकेज के असल रक़म के बारे में तवक़्क़ो की जा रही थी कि ये 86 अरब यूरो के लग भग होगा लेकिन इस के असल रक़म के बारे में अभी हतमी तौर पर कुछ नहीं कहा गया। ख़्याल रहे कि यूनान की मईशियत के कुसादबाज़ारी का शिकार होने के बाइस उस का रक़म बढ़ भी सकता है।

TOPPOPULARRECENT