यूनान पहली मर्तबा नाक आउट मरहला में दाख़िल

यूनान पहली मर्तबा नाक आउट मरहला में दाख़िल
वर्ल्ड कप 2014 के ग्रुप सी में यूनान ने आयोरी कोस्ट को हरा कर अगले मरहले के लिए क्वालीफ़ाई कर लिया है जबकि कोलंबिया इस ग्रुप से पहले ही क्वालीफ़ाई कर चुका है।यूनान ने पहली मर्तबा वर्ल्ड कप के नाक आउट मरहले के लिए क्वालीफ़ाई किया है।

वर्ल्ड कप 2014 के ग्रुप सी में यूनान ने आयोरी कोस्ट को हरा कर अगले मरहले के लिए क्वालीफ़ाई कर लिया है जबकि कोलंबिया इस ग्रुप से पहले ही क्वालीफ़ाई कर चुका है।यूनान ने पहली मर्तबा वर्ल्ड कप के नाक आउट मरहले के लिए क्वालीफ़ाई किया है।

ये पहला मौक़ा है कि यूनान की टीम वर्ल्ड कप के नाक आउट मरहले में खेलेगी। आयोरी कोस्ट की टीम में यहया तोरे, दीद म्यूर दरोगोबा, सलमान कालू और जावनेव जैसे मशहूर खिलाड़ी मौजूद थे लेकिन वो यूनान का मुक़ाबला ना कर सके। आयोरी कोस्ट की टीम ने खेल का आग़ाज़ जारिहाना अंदाज़ में किया और मैच के शुरुआत‌ में यूनान के गोल पर कई हमले किए लेकिन आधे घंटे के खेल के बाद आयोरी कोस्ट की टीम सुस्त पड़ गई और यूनान आयोरी कोस्ट के गोल पर ताबड़तोड़ हमले किए।

यूनान ने आयोरी कोस्ट के खिलाड़ी के ग़लती से फ़ायदा उठा कर पहले बरतरी हासिल कर ली जो मैच के 74 वें मिनट तक बरक़रार रही। इस मौके पर आयोरी कोस्ट के मुतबादिल खिलाड़ी विल्फ्रिड बोनी ने गोल कर के मैच को बराबरी पर ला खड़ा किया अगर आयोरी कोस्ट इस मैच को बराबरी पर ख़त्म कर लेता तो वो अगले मरहले के लिए क्वालीफ़ाई कर जाता।

मैच के इज़ाफ़ी तीन मिनटों में जब यूनान ने आयोरी कोस्ट के गोल पर दबाव‌ बढ़ाया तो वो पनालटी हासिल करने में कामयाब हो गया जिस पर संप्रास ने गोल कर यूनान की फ़तह को यक़ीनी बना दिया। आयोरी कोस्ट ने इस मैच में विल्फ्रेड बोनी की जगह माज़ी के मशहूर खिलाड़ी दीद म्यूर दवोगबा से मैच शुरू किया था। दीद म्यूर द्रोगबा एक से ज़्यादा मर्तबा अफ्रीकन प्लेयर आफ़ दी एयर का एज़ाज़ हासिल कर चुके हैं।

Top Stories