Tuesday , November 21 2017
Home / Khaas Khabar / VHP का एक लाख राम मंदिर की मूर्ति को मुल्क़भर के गावों में कायम करने की मंसूबा

VHP का एक लाख राम मंदिर की मूर्ति को मुल्क़भर के गावों में कायम करने की मंसूबा

अयोध्या। विश्व हिंदू परिषद ने पीर से राम मंदिर को लेकर एक नया मुहीम शुरू किया है। वीएचपी हर गांव में एक राम मंदिर बनवाएगी। वीएचपी इस मुहीम की शुरुआत अपने कार्यकर्ताओं को रामनवमी के दिन राम दरबार की मूर्ती देकर करेगी। वीएचपी की मंसूबा है कि देशभर के एक लाख गांवों में इन मूर्तियों को लगाया जाए।
अंग्रेजी अखबार ‘द टाइम्‍स ऑफ इंडिया’ के मुताबिक विश्व हिंदु परिषद ऐसे एक लाख मूर्ति को देशभर के गावों में कायम करने की मंसूबा बना रही है। विहिप के एक सदस्य के मुताबिक राम नवमी के दिन लोगों को अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए प्रेरित भी किया जाएगा।
इससे पहले मंगल को उत्तर प्रदेश में भाजपा के नए प्रभारी केशव प्रसाद मौर्य ने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर की तामीर उनकी पार्टी की आस्था से जुड़ा हुआ है।उन्होंने ये भी कहा कि भाजपा उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों को विकास के मुद्दे पर ही लड़ेगी।
उधर, फिर से गरमाए जा रहे राम मंदिर तामीर के मुद्दे को उज्जैन में होने वाले सिंहस्थ कुंभ से हवा मिलने वाली है। माना जा रहा है कि इस दौरान होने वाले संत सम्मेलन से राम मंदिर आंदोलन फिर शुरू किया जा सकता है। कुंभ के दौरान तीन, चार और पांच मई को वीएचपी संत सम्मेलन है।

facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इसमें कई मुद्दों पर चर्चा होने की इमकान है, लेकिन राम मंदिर तामीर का मुद्दा खास माना जा रहा है। ज़राये के मुताबिक, मंदिर के मुद्दे पर देशभर के संतों में रोष है और वह जल्द इसका समाधान चाहते हैं। ऐसे में उज्जैन में इस सिलसिले में कोई अहम् परपोजल पास कर तहरीक शुरू किया जा सकता है।
वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि साल में हमारी दो बैठकें होती हैं। प्रबंध समिति की बैठक जून के आखिर में बिहार में होनी है। इस बैठक में मंदिर तामीर के मुद्दे पर संजीदगी से चर्चा की जाएगी। हम चाहते हैं कि इसका फैसला संसद में कानून बनाकर किया जाए।
केंद्र में बीजेपी की सरकार है। तोगड़िया ने एक प्रस्ताव पास कर इसके लिए कानून बनाने की बात दोहराई। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लेते हुए कहा, हमें लगता है कि मोदी जी वादे के पक्के हैं, वह इसके लिए जरूर कुछ करेंगे।

TOPPOPULARRECENT