Wednesday , December 13 2017

यूपी को मुनक़सिम करने मायावती की तजवीज़ जलदबाज़ी

चन्दीगढ़ 18 नवंबर । ( पी टी आई ) मुल्क में नई रियास्तों के क़ियाम पर कोई फ़ैसला करने से क़बल एहतियात ज़रूरी है । उजलत में कोई फ़ैसला नहीं किया जा सकता ।

चन्दीगढ़ 18 नवंबर । ( पी टी आई ) मुल्क में नई रियास्तों के क़ियाम पर कोई फ़ैसला करने से क़बल एहतियात ज़रूरी है । उजलत में कोई फ़ैसला नहीं किया जा सकता ।

बी जे पी लीडर एल के अडवानी ने कहा कि यूपी को मुनक़सिम करने मायावती की तजवीज़ पर अमल करना जलदबाज़ी होगी । उन्हों ने इस सिलसिले में मज़ीद तज़किरा से इनकार किया। अडवानी ने यहां अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि इस तजवीज़ के पीछे मायावती का जो कुछ भी नज़रिया है इस बारे में फ़िलहाल में कोई क़ियास आराई नहीं करूंगा ।

किसी नई रियासत का क़ियाम जलदबाज़ी में नहीं किया जा सकता । चीफ़ मिनिस्टर मायावती ने कल यूपी को चार रियास्तों में तक़सीम करने की तजवीज़ पेश की थी । अडवानी ने काले धन के मसले पर कहा कि उन्हें तवक़्क़ो है कि पार्लीमैंट के सरमाई सैशन के दौरान काले धन का मसला छाया रहेगा ।

मिस्टर अडवानी ने महंगाई, बदउनवानी और काले धन के मुआमले पर अपनी मुल्क गीर चेतना यात्रा के 37 वें रोज़ आज यहां एक अख़बारी कान्फ़्रैंस में कहा कि पार्टी काली धन के मुआमले को पार्लीमैंट के आइन्दा सरमाई इजलास में ज़ोरदार ढंग से उठाएगी और सरकार से इस पर जवाब मांगेगी। उन्हों ने कहा कि सोइस और ग़ैर मुल्की बैंकों में बेईमानी और जराइम के रास्ते से हासिल की गई दौलत जमा है, और मुल्क् के अवाम को अब ये जवाब चाहीए कि ये पैसा किस का है।

उन्हों ने कहा कि अमरीका, जर्मनी, फ़्रांस जैसे ताक़तवर मुल़्क ही नहीं बल्कि फ़िलीपीन , पैरौ, जुनूबी कोरिया और नाइजर या जैसे छोटे मुल्कों ने ग़ैर मुल्की बैंकों में जमा काले धन को वापिस लाने केलिए सख़्त और मूसिर इक़दाम किए हैं लेकिन यू पी ए सरकार ने इस मुआमले में बेहिसी का रवैय्या अपना रखा है।

उन्हों ने पूछा कि सरकार उन लोगों के नामों का इन्किशाफ़ करने से क्यों कतरा रही है जिन के ख़िलाफ़ इस ने ग़ैर मुल्कों में जमा दौलत पर इनकम टैक्स वसूलने की कार्रवाई शुरू की है

TOPPOPULARRECENT