यूपी गठबंधन: क्या करेंगे मुस्लिम वोटर्स?

यूपी गठबंधन: क्या करेंगे मुस्लिम वोटर्स?

बहुजन समाज पार्टी (BSP) और समाजवादी पार्टी (SP) के गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल भी शामिल हो गई है। लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर प्रदेश में नरेंद्र मोदी के विजयरथ को रोकने के लिए तीन दलों के बीच सीट को लेकर सहमति बन गई है।

बुधवार को आरएलडी के उपाध्यक्ष जयंत सिंह ने अखिलेश यादव के साथ बैठक की थी, जिसके बाद आरएलडी को सूबे की तीन सीटें दी गई हैं और पार्टी का एक उम्मीदवार सपा के चुनाव चिन्ह पर उतरेगा। सूत्रों के मुताबिक पश्चिम यूपी की लोकसभा सीटों को लेकर तीनों दलों में सीट शेयरिंग का फॉर्मूला तय हो गया है।

सूत्रों की मानें तो पश्चिम यूपी की 22 लोकसभा सीटों में से ज्यादातर सीटें बहुजन समाज पार्टी के खाते में गई है। पश्चिम की 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जबकि 8 सीटों पर सपा और 3 सीटों पर आरएलडी को मिली हैं। सूबे की अभी 56 सीटों पर तस्वीर साफ नहीं हुई है।

बता दें कि सपा और बसपा ने 23 साल की आपसी दुश्मनी को भुलाकर गठबंधन किया है। शनिवार को अखिलेश यादव और मायावती ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस करके गठबंधन का ऐलान किया था। सीट शेयरिंग को लेकर मायावती ने घोषणा की थी कि सूबे की 80 लोकसभा सीटों में से 38-38 सीटों पर सपा-बसपा चुनाव लड़ेगी।

इसके अलावा रायबरेली और अमेठी सीट पर कांग्रेस के खिलाफ सपा-बसपा गठबंधन अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। बाकी बची 2 सीटें सहयोगी दल के लिए रखी गई थी।

साभार- ‘आज तक’

Top Stories