Monday , June 25 2018

यूपी चुनाव: ओवैसी-अजित सिंह में हो सकता है गठबंधन!

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के गठबंधन से किनारा करने वाली आरएलडी अब नए गठबंधन की राह तलाश रही है। सूत्रों की माने तो गठबंधन को लेकर AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी और आरएलडी अध्यक्ष अजित सिंह के बीच बातचीत चल रही है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो दोनों पार्टियां यूपी चुनाव में एकसाथ लड़ेगी।

इससे पहले कांग्रेस. सपा और आरएलडी के महागठबंधन की बातचीत चल रही थी। लेकिन आरएलडी नेता रविंद्र पटेल ने साफ़ किया कि अजित सिंह कांग्रेस और सपा के गठबंधन में शामिल नहीं होंगे।  महागठबंधन में  आरएलडी के हटने की वजह ये बताई जा रही है कि सपा और कांग्रेस द्वारा आरएलडी को 20 सीटें दी जा रही थीं लेकिन अजित सिंह 30 सीटों की मांग पर अड़े थे।

सूत्रों ने बताया कि कल लखनऊ में आरएलडी का एक सम्मेलन होने वाला है। इस सम्मेलन में आरएलडी के सभी जिलाध्यक्षों और महानगर अध्यक्षों को बुलाया गया है। कल ही लखनऊ में ओवैसी आ रहे हैं। संभव है कि दोनों नेता गठबंधन को लेकर बातचीत करेंगे और अगले कुछ दिनों में इसका ऐलान भी किया जा सकता है।

मुसलमानों और दलितों के गठजोड़ की राजनीति करने वाली एमआईएम के मैदान में आने का असर सपा-कांग्रेस के गठबंधन के साथ  बीएसपी की रणनीति पर भी पड़ सकता है। आरएलडी का पश्चिमी यूपी में अच्छा खासा प्रभाव है। ऐसा माना जा रहा है कि पश्चिमी यूपी में अजित सिंह की पार्टी बीजेपी के वोटरों के लिए वोटकटवा पार्टी का काम कर सकती है।  दूसरी तरफ 2014 लोकसभा चुनाव से पहले आरएलडी जाट और मुस्लिम गठजोड़ के बदोलत ही पश्चिमी यूपी में विधानसभा की सीटे लाती रही हैं। औवैसी और अजित सिंह का पश्चिमी यूपी में मिलकर चुनाव लड़ना एमआईएम जैसी डेब्यू करने वाली पार्टी के लिए फायदेमंद साबित होगा।

TOPPOPULARRECENT