Thursday , November 23 2017
Home / Khaas Khabar / यूपी; चुनाव से पहले मंत्रिमंडल का विस्तार, अखिलेश ने खेला ब्राह्मण कार्ड

यूपी; चुनाव से पहले मंत्रिमंडल का विस्तार, अखिलेश ने खेला ब्राह्मण कार्ड

लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिकेश यादव ने मंत्रिमंडल का आज दोपहर आठ वां विस्तार किया। इस दौरान कुल 10 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। ऐन विधानसभा चुनाव से पहले मंत्रिमंडल विस्तार में तीन मुसलमान, तीन ब्राह्मण और तीन ओबीसी को शामिल कर संतुलन बनाने की कोशिश की गई है।पप्पू निषाद को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया।
अखिलेश मंत्रिमंडल का यह आठवां और अंतिम विस्तार है। चूंके विधानसभा चुनाव से पहले विस्तार किया गया है। इस लिए मंत्रियों के चयन में इसकी पूरी छाप देखी गई। चौथी बार गायत्री प्रजापति को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की आलोचन हो रही है। उन्हें मंत्री नहीं बनाने को लेकर एक गैर सरकारी संगठन ने राज्यपाल राम नाईक को पत्र भी लिखा था। बता दें कि तकरीबन 10 दिनों पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रजापति को भ्रष्टाचार के आरोप में बर्खास्त कर दिया था। सपा और मुलायम परिवार में रार की एक वजह उनकी बर्खास्तगी भी मानी जाती है।
आज अखिलेश मंत्रिमंडल में जिन तीन मुस्लिम चेहरों को शामिल किया गया वे हैं रियाज़ अहमद,यासिर शाह और जियाउद्दीन। इसी तरह प्रजापति के अलावा शंखलाल यादव, अभिषेक मिश्रा, रविदास महरोत्रा, मनोज पांडे, नरेंद्र वर्मा एंव शिवकांत ओझा मंत्री बनाए गए हैं। नये मंत्रिमंडल में मुसलमानों को अहमियत देने की वजह ओवैसी का बढ़ता प्रभाव और मुसलमानों की नाराजगी को मानी जा रही है। जबकि तीन ब्राह्मणों को इस लिए जगह दी गई है कि कांग्रेस एवं बसपा की इस जाति पर खास नजर है। कांग्रेस ने तो शीला दीक्षित को ही मुख्यमंत्री का प्रत्याशी घोषित कर दिया है।

TOPPOPULARRECENT