Saturday , September 22 2018

यूसीसी पर नीतीश कुमार ने कहा- ‘सभी सम्प्रदाय के एक साथ रहने की खासियत को नष्ट करने की कोशिश ना की जाए’

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि केंद्र सरकार समान नागरिक संहिता के लिए पहले सभी संप्रदायों से बात करे, सही से राय ले। इसका क्या प्रारूप होगा और क्या प्रस्ताव है, यह बताये। इसके बाद इस पर संसद व विभिन्न क्षेत्रों में बहस हो. तब जाकर जो निष्कर्ष निकलता है, वैसा किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पर बिहार सरकार ने कैबिनेट की सहमति के बाद अपनी राय से केंद्र को अवगत करा दिया है. अब जदयू एक-दो दिनों में अपना स्टैंड साफ कर देगा। सीएम ने कहा कि समान संहिता के लिए केंद्र ने प्रश्नावली भेजी थी।

क्या किसी राज्य सरकार को प्रश्नावली भेजी जाती है? लग रहा है कि किसी नौकरी की परीक्षा में बैठे हैं, क्या यही तरीका है? समाज में विभिन्न भाषा, संप्रदाय के लोग रहते हैं। देश की इस खासियत को नष्ट करने की कोशिश नहीं की जाये।

TOPPOPULARRECENT