Thursday , December 14 2017

यू पी ए इक़तिदार के हक़ से महरूम

मनमोहन सिंह मुहासिबा करें, पार्लीमैंट तात्तुल की मुदाफ़अत : जेटली

मनमोहन सिंह मुहासिबा करें, पार्लीमैंट तात्तुल की मुदाफ़अत : जेटली
यू पी ए हुकूमत पर छोटी जमातों के साथ गठजोड़ के ज़रीया मर्कज़ में बरसर-ए-इक़तिदार रहने का इल्ज़ाम आइद करते हुए बी जे पी ने आज कहा कि मनमोहन सिंह हुकूमत इक़तिदार पर फ़ाइज़ रहने के हक़ से मुकम्मल महरूम होचुकी है। राज्य सभा में क़ाइद अप्पोज़ीशन अरूण जेटली ने गोवा में ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म को चाहीए कि वो अपना मुहासिबा करें कि यू पी ए हुकूमत को क्या फ़ी अलवा कई अवामी ताईद हासिल है या फिर वो राय आम्मा की ताईद से महरूम होचुकी है क्योंकि हमारा ये यक़ीन है कि यू पी ए को इक़तिदार पर फ़ाइज़ रहने का हक़ नहीं।

अरूण जेटली ने इल्ज़ाम आइद किया कि यू पी ए तहक़ीक़ाती एजैंसीयों के साथ भी गठजोड़ कररही है। वो तहक़ीक़ाती एजैंसीयों का बेजा इस्तिमाल कररही है। यू पी ए उस वक़्त तक इक़तिदार पर रहेगी जब तक वो छोटी जमातों के साथ वो इस तरह का गठजोड़ बरक़रार रखेगी। कोयला बलॉक अस्क़ाम के बारे में उन्हों ने कहा कि क़ियादत और यू पी ए की साख मुकम्मल ख़तम होचुकी है।

अरूण जेटली ने कहा कि मुल्क में पौलिसी मफ़लूज होगई जिस के नतीजे में हुकूमत हुक्मरानी से बिलकुल क़ासिर है और वो मुल़्क की सही सिम्त में रहनुमाई नहीं करसकती। एक सवाल के जवाब में बी जे पी लीडर ने कहा कि पार्लीमैंट की कार्रवाई को रोके रखना इंसाफ़ के हुसूल केलिए जमहूरी तरीका कार है। वो इस बात से इत्तिफ़ाक़ करते हैं कि पार्लीमैंट का वक़्त ज़ाए हुआ लेकिन मुबाहिस पार्लीमैंट के बाहर भी होसकते हैं।

माज़ी में बी जे पी ने इसी तरह पार्लीमैंट की कार्रवाई रोक दी थी, जिस के बाद 2G अस्क़ाम की तहक़ीक़ात यक़ीनी बनाई गई और टेलीकॉम सैक्टर में बेहतरी लाई जा सकी।अब पार्लीमैंट की कार्रवाई को रोकते हुए हम कोयला सैक्टर को शफ़्फ़ाफ़ बनाना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT