Friday , December 15 2017

येद्दयुरप्पा पर गै़रक़ानूनी जायदाद के सौदों का सी बी आई की तरफ‌ से फ़र्द-ए-जुर्म(चार्जशीट)

सी बी आई ने आज पिछ्ले चीफ़ मिनिस्टर कर्नाटक बी ऐस येद्दयुरप्पा पर मुबय्यना तौर पर स्टील कंपनीयों को एक ख़ैराती ट्रस्ट को अतयात जात के बदला ग़ैर मसतहक़ा इनायात अता करने का फ़र्दा जुर्म आइद क्या ।

सी बी आई ने आज पिछ्ले चीफ़ मिनिस्टर कर्नाटक बी ऐस येद्दयुरप्पा पर मुबय्यना तौर पर स्टील कंपनीयों को एक ख़ैराती ट्रस्ट को अतयात जात के बदला ग़ैर मसतहक़ा इनायात अता करने का फ़र्दा जुर्म आइद क्या ।

ये ख़ैराती ट्रस्ट उन के रिश्तेदारों के ज़ेर-ए-एहतिमाम है । येद्दयुरप्पा की इन बेजा इनायात की वजह से सरकारी ख़ज़ाने को अंदेशा है कि 890 करोड़ रुपय का नुक़्सान पहुंचा है ।

सी बी आई की ख़ुसूसी अदालत ने पेश किए हुए फ़र्द-ए-जुर्म(चार्जशीट) में सी बी आई ने येद्दयुरप्पा ,उन के फ़रज़न्दों विजेंदरा और राघवेन्द्र ए ,उन के दामाद आर एन सोहन कुमार और जे एस डब्लयू स्टीलस के सज्जन जंदाल ,विनोद नवाल और विकास शर्मा को मुल्ज़िमीन क़रार दिया है ।

सी बी आई के बमूजब उन पर क़ानून-ए-ताज़ीरात हिंद की मुख़्तलिफ़ दफ़आत बराए मुजरिमाना साज़िश ,जाली दस्तावेज़ात ,धोका दही और जालसाज़ी के तहत मुक़द्दमात दर्ज किए जाऐंगे ।

TOPPOPULARRECENT