Monday , February 26 2018

ये क्या…अखिलेश की तस्वीर हटाते ही लैपटॉप क्रैश

नई दिल्‍ली, 14 मार्च: उत्तर प्रदेश हुकूम्त की तरफ से बारहवीं पास स्टूडेंट्स को दिए गए लैपटॉप से वज़ीर ए आलम अ‌खिलेश यादव और उनके वालिद मुलायम स‌िंह यादव की तस्वीर हटाना नामुमकिन हो गया है। कुछ स्टूडेंट्स ने इसकी कोशिश की तो उनके लैप

नई दिल्‍ली, 14 मार्च: उत्तर प्रदेश हुकूम्त की तरफ से बारहवीं पास स्टूडेंट्स को दिए गए लैपटॉप से वज़ीर ए आलम अ‌खिलेश यादव और उनके वालिद मुलायम स‌िंह यादव की तस्वीर हटाना नामुमकिन हो गया है। कुछ स्टूडेंट्स ने इसकी कोशिश की तो उनके लैपटॉप ही क्रैश हो गए।

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, कुछ स्टूडेंट्स ने उत्तर प्रदेश हुक्कुमत की तरफ से दिए गए लैपटॉप में लगे टेंपरप्रूफ वॉलपेपर्स को हटाने की कोशिश की तो उनके लैपटॉप क्रैश हो गए। बाद में एचपी के इं‌जीनियर्स ने इसे ठीक करने की कोशिश की तो ऑपरेटिंग सिस्टम (लाइनेक्स/LINUX) ने ही काम करना बंद कर दिया।

गौरतलब है कि लैपटॉप के वॉलपेपर पर ही मुलायम सिंह यादव और अ‌‌खिलेश यादव की फोटो लगी है और अमेरिकन कंपनी एचपी ने इनकी सप्लाई की है।

यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड के मार्केटिंग मैनेजर विष्‍णु मोहन ने बताया कि लैपटॉप क्रैश होने की शिकायतें उन्हें मिली है। उन्होंने बताया कि लैपटॉप के वालपेपर टेंपरप्रूफ हैं, इन्हें हटाया नहीं जा सकता। छेड़खानी करने से ये लैपटॉप क्रैश हो जाएंगे।

विष्‍णु मोहन ने कहा, ‘जिन तलबा ( स्टूडेंट्स) के लैपटॉप क्रैश हुए हैं, उन्हें वॉलपेपर न हटाने की हिदायत दी गयी थी। टीचरों ने भी उन्हें ऐसा करने से मना किया लेकिन उन्होने लैपटॉप पाते ही पहला काम वॉलपेपर हटाने का किया, जिसका नुकसान उन्हें उठाना पड़ा। यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड के पास ही लैपटॉप के डिस्ट्रीब्यूशन की जिम्‍मेदारी है।

TOPPOPULARRECENT