Tuesday , November 21 2017
Home / India / ये तो सच है की उरी हमले से ज्यादा नोटबंदी की वजह से मरे हैं लोग: शिवसेना

ये तो सच है की उरी हमले से ज्यादा नोटबंदी की वजह से मरे हैं लोग: शिवसेना

मुंबई: राज ठाकरे और उदय ठाकरे ने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार के पर  हमला बोला है। उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के  अपने मुखपत्र ‘सामना’ मे  कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के ‘विवादित’ बयान का समर्थन किया है
शिवसेना ने कहा कि आजाद से माफी मंगवाने से सच्चाई बदल नहीं जाएगी, ये तो सच है की उरी हमले से ज्यादा नोट बंदी की वजह से हुई है मौत. वहीं  दूसरी तरफ़ राज ठाकरे ने नोटबंदी को लेकर मोदी की नीयत पर सवाल खड़ा किया । राज ने पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि सुबह गोवा में काले धन पर भावुक भाषण देने वाले मोदी, शाम को शरद पवार की तारीफ कर रहे थे।

बृहस्पतिवार को राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद के  बयान को लेकर काफी हंगामा मचा था. उन्होंने नोटबंदी से होने वाली मौतों की तुलना उड़ी आतंकवादी हमले में मरने वालों से की थी। इस बयान के लिए बीजेपी ने उनसे बिना शर्त माफी मांगने को कहा था।

शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में छपे संपादकीय में सवाल किया गया, ‘अगर आजाद ने माफी मांग ली तो क्या सच्चाई बदल जाएगी। उड़ी हमले में 20 जवान शहीद हुए थे। नोटबंदी के चलते चलन से हटाए गए नोटों को बदलने के लिए बैंकों की कतारों में लगे 40 शूरवीर देशभक्तों ने बलिदान दिया।’ संपादकीय के जरिए कहा गया, ‘हमलावरों में फर्क है। उड़ी में पाकिस्तानियों का हमला हुआ और नोटबंदी का हमला हमारे शासनकर्ताओं ने किया।’
TOPPOPULARRECENT