Thursday , December 14 2017

रक्षामंत्री पर्रिकर ने ममता को लिखा पत्र, कहा आपके आरोप की वजह से मुझे सेना का मनोबल गिरने का डर है

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर चुंगी नाका विवाद में सेना का नाम घसीटने को लेकर दुख जताया है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि आपके आरोप की वजह से मुझे सेना का मनोबल गिरने का डर है।

शुक्रवार को लिखे अपने पत्र में पर्रिकर ने लिखा है कि ममता बनर्जी की वजह से सेना का मनोबल गिरने का घतरा बना हुआ है। आपके आरोप की वजह से मुझे सेना का मनोबल गिरने का डर है। अपने दो पेज के पत्र में रक्षामंत्री ने बहुत कुछ लिखा है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत राज्य के विभिन्न शहरों में नेशनल हाइवे पर स्थित चुंगी नाका पर सेना की तैनाती को रूटीन अभ्यास सैन्य अभ्यास बताया है। उन्होंने कहा है कि यह बहुत पहले से होता आया है। बंगाल पुलिस को पहले से ही इसकी सूचना दे दी गई थी।

https://twitter.com/ANI_news/status/807080214287126528/photo/1?ref_src=twsrc%5Etfw

गौरतलब है कि एक दिसंबर की शाम को ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल सरकार को भरोसे में लिए बगैर सचिवालय के नजदीक चुंगी टोल नाके पर सेना को तैनात करने का आरोप लगाया था। उन्होंने इसे संविधान का उल्लंघन बताते हुए देश में गृहयुद्ध पैदा करने वाला कदम बताया था। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि मोदी सरकार सेना के जरिए तख्तापलट की कोशिश कर रही है।

इसके बाद उन्होंने सेना नहीं हटने तक सचिवालय पर धरना दिया था। ममता के इस कड़े रुख को देखते हुए सरकार ने देर रात को वहां से सेना को  हटा लिया था। हालांकि ममता बनर्जी ने उस दिन की रात सचिवालय में ही गुजारी थी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का का दावा था कि सेना को राज्य सरकार को सूचित किए बगैर ही तैनात किया गया। उन्होंने इस घटना को अभूतपूर्व और बेहद गंभीर मामला बताया था।

TOPPOPULARRECENT