Thursday , December 14 2017

रक्षा और आतंकवाद में सहयोग से भारत-इज़राइल सहमत, प्रधानमंत्री मोदी से इजरायली राष्ट्रपति कि आपसी बातचीत

नई दिल्ली: भारत और इज़‌राइल ने आतंकवाद के खिलाफ और रक्षा के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए आज कहा कि इससे वैश्विक शांति, स्थिरता और लोकतंत्र की आवाज को मजबूती मिलेगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां इसराइल के राष्ट्रपति  रियूवेन रिवलिन के साथ द्विपक्षीय बैठक के बाद मीडिया के सामने जारी बयान में विश्व समुदाय से अपील करते हुए कहा कि आतंकवाद आज दुनिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती है।

इस चुनौती के खिलाफ कार्रवाई न करने और चुप रहने से आतंकवादियों के हौसले बढ़ेंगे, ऐसे में इस चुनौती का डटकर मुकाबला करने के लिए भारत और इसराइल ने आपसी सहयोग बढ़ाने और रक्षा के क्षेत्र में अपने संबंधों को विस्तार देने का फैसला किया है मोदी और  रियूवेन रिवलिन के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के बाद भारत और इजराइल के बीच जल संसाधन विकास और कृषि के क्षेत्र में दो महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर भी किए गए|

मंत्री  रियूवेन रिवलिन  भारत यात्रा को दोनों देशों के बीच संबंधों को गहरा करने में काफी फायदेमंद बताते हुए कहा कि इसराइल के साथ भारत के ढाई दशक पुरानी दोस्ती का दोनों देशों को भरपूर लाभ मिला है। सबसे अधिक लाभ दोनों देशों की जनता को हुआ है। इस जनता को जो हमारी वास्तविक शक्ति है।

TOPPOPULARRECENT