Tuesday , December 12 2017

रखाइन प्रांत में लोगों से हिंसा से बचने की ‘आंग सान सू ची’ की अपील

रखाइन। रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर म्यांमार के रखाइन प्रांत में भड़की हिंसा के बाद हालात का जायजा लेने के लिए नोबेल पुरस्कार विजेता आंग सान सू की ने दौरा किया। इस दौरान सूकी ने लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की थी। हालांकि सू की के दौरे की घोषणा आधिकारिक तौर पर नहीं की गई थी।

फिर भी सू की भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच रखाइन प्रांत की राजधानी सितवे से सेना के हेलीकॉप्टर से वहां पहुंची । उनको मौंगडॉव जिले के एक गांव ले जाया गया। जहां सबसे ज्यादा पलायन हुआ है।

गौरतलब है कि 25 अगस्त को कुछ रोहिंग्या विद्रोहियों ने सुरक्षा बलों पर हमला बोल दिया था,जिसके बाद पूरे समुदाय के खिलाफ सैन्य कार्रवाई की गई। बड़ी संख्या में रोहिंग्या मुस्लिमों की हत्याएं की गई। महिलाओं के साथ रेप और लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया गया।

सू की के दौरे को लेकर म्यांमार सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि स्टेट काउंसलर एक दिवसीय दौरे पर हैं और वे कई इलाकों का दौरा कर भी चुकी हैं।

बता दें कि रोहिंग्या मुद्दे पर चुप्पी साधने को लेकर नोबेल पुरस्कार विजेता आंग सांग सू की की काफी आलोचला हो चुकी है, और तो और उन पर नोबेल पुरस्कार न वापस लौटाने के लिए जोर दिया गया था।

बताते चले कि म्यांमार में हिंसा भड़कने के बाद लाखों की संख्या में लोग जान बचाकर बांग्लादेश और भारत भाग आए थे। एक रिपोर्ट के मुताबिक अब तक छह लाख लोगों के बांग्लादेश भाग जाने की खबर है।

TOPPOPULARRECENT