Tuesday , December 12 2017

रघुराम राजन के बहाने सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने गवर्नर के तौर पर दूसरा कार्यकाल लेने से इंकार कर दिया है। इसका अर्थ है कि 3 सितंबर, 2016 को रघुराम राजन अपना पदभार छोड़ देंगे। आरबीआई के मौजूदा गवर्नर रघुराम गोविंद राजन के इस बयान के बाद तमाम अटकलों पर विराम लग गया है। रघुराम राजन ने आरबीआई के कर्मचारियों को एक मेल के जरिए इस बात की जानकारी दी है। राजन ने रिजर्व बैंक में अपने सहयोगियों को चिट्ठी लिखकर कहा है कि सितंबर में वह रिटायर हो रहे हैं और वे एकेडमिक्स की ओर वापस लौट जाएंगे।

गौरतलब है कि बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पिछले काफी समय से राजन के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। यहां तक कि स्वामी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर आरबीआई गवर्नर के खिलाफ सीबीआई के अंतर्गत बनाई गई एसआईटी से जांच की मांग भी कर चुके हैं। राजन के इस फैसले पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सरकार रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन द्वारा किए गए अच्छे कार्यों की प्रशंसा करती है और उनके फैसले का सम्मान करती है।

TOPPOPULARRECENT