Wednesday , June 20 2018

रजनीकांत की राजनीति में भगवा रंग है, गठबंधन संभव नहीं : कमल हासन

नई दिल्ली :   दक्षिण भारत के दो बड़े कलाकार कमल हासन और रजनीकांत राजनीति में कदम रखने के बाद कयास लगा जा रहे थे कि दोनों अभिनेता गठबंधन करेंगे, लेकिन कमल हासन ने अपना रूख साफ कर दिया है। कमल हासन ने कहा कि रजनीकांत की राजनीति में भगवा रंग दिखता है, अगर वह नहीं बदलता है तो मैं उनके साथ गठबंधन की संभावना नहीं देखता हूं। हम अच्छे दोस्त हैं, लेकिन राजनीति अलग चीज है।

कमल हासन ने अमेरिका के हावर्ड यूनिवर्सिटी में मोदी सरकार को भी आड़े हाथों लिया। उन्‍होंने कहा, ‘सरकार हमें खाने के लिए पर्याप्त बीफ नहीं दे रही है और वो हमें ये बताना चाहती है कि हम क्या खाएं क्या न खाएं।’ वहीं कमल हासन ने लव जिहाद के मुद्दे पर कहा कि प्यार दुनिया भर में विजयी होता है।

प्रतिष्ठित हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के सालाना भारतीय सम्मेलन में शनिवार को 63 वर्षीय अभिनेता ने तमिलनाडु के हर जिले से एक गांव गोद लेने की अपनी योजना का एलान भी किया। महात्मा गांधी के आत्मनिर्भरता के विचार का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गांव के तौर पर विकसित करने के इरादे से तमिलनाडु के प्रत्येक जिले से एक गांव को गोद लेने की घोषणा कर रहा हूं।’

अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने इस बात पर अफसोस जताया है कि उनके गृहराज्य तमिलनाडु में सब कुछ ठीक नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि सियासी पार्टी बनाने वाले अभिनेता रजनीकांत का झुकाव भाजपा की ओर है। उन्होंने अपने गृहराज्य की मौजूदा राजनीति पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि तमिलनाडु में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है।

हाल में तमिलनाडु की राजनीति में उतरने की घोषणा करने वाले रजनीकांत के बारे में पूछे जाने पर हासन ने कहा कि वह रजनीकांत के साथ चुनावी गठबंधन की संभावना से इन्कार नहीं कर सकते। अगर हमारी विचारधारा और चुनावी घोषणा पत्रों में समानता हुई तो गठबंधन हो सकता है।

गौरतलब है कि जयललिता के निधन के बाद रजनीकांत और कमल हासन का राजनीति में प्रवेश तमिलनाडु की राजनीति में बड़े बदलाव का दौर है। दोनों कलाकारों ने राजनीति में उतरने का एलान कर दिया है। दोनों ही तमिलनाडु में होने वाले चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवार खड़े करेंगे। हालांकि दोनों ने अभी तक अपनी पार्टियों के नामों की घोषणा नहीं की है। हासन अपनी पार्टी के नाम की घोषणा करने वाले हैं और 21 फरवरी से वह राज्य का दौरा शुरू करेंगे।

TOPPOPULARRECENT