रमजान के दौरान नमाज को बाधित नहीं करेंगे: संयुक्त हिन्दू संघर्ष समिति

रमजान के दौरान नमाज को बाधित नहीं करेंगे: संयुक्त हिन्दू संघर्ष समिति
Click for full image

नई दिल्ली: गुड़गांव में खुली जगहों पर शुक्रवार की नमाज़ से एक दिन पहले – रमजान के महीने में पहली बार – संयुक्त हिंदू संघर्ष समिति ने आश्वासन दिया है कि इस पवित्र महीने के अभ्यास के दौरान कोई विरोध नहीं होगा, या इसके दौरान व्यवधान नहीं होगा.

हाल ही में गुड़गांव में कुछ इलाकों में खुली जगह पर जुमे की नमाज पढ़े जाने का कुछ हिंदूवादी संगठनों ने विरोध किया था. इसको लेकर विवाद उठ गया था.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा था कि नमाज मस्जिदों और ईदगाहों में ही पढ़ी जानी चाहिए. बाद में प्रशासन ने जुमे की नमाज के लिए कुछ स्थान चिन्हित किए, हालांकि कुछ संगठन इसका विरोध कर रहे हैं.

हरियाणा में गुड़गांव और कुछ अन्य स्थानों पर खुले में नमाज में पढ़ने का कुछ हिंदूवादी संगठन द्वारा विरोध किए जाने की वजह से पैदा हुए विवाद के स्थायी समाधान के लिए राज्य वक्फ बोर्ड ने अपने अधिकार क्षेत्र के भूखंडों का इस्तेमाल करने का फैसला किया है.

राज्य के वक्फ बोर्ड ने नमाज के लिए अपने अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले भूखंडों को चिन्हित करने का काम शुरू भी कर दिया है.

Top Stories