Thursday , September 20 2018

रविशंकर का अयोध्या मामले से कोई संबंध नहीं, हिन्दू- मुस्लिम बांटने की राजनीति कर रहे हैं- शिवसेना

अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद को कोर्ट के बाहर सुलझाने की कोशिश में लगे श्रीश्री रविशंकर के हालिया बयान की निंदा हो रही है। श्रीश्री के सीरिया वाले बयान से शिवसेना खासी नाराज है।

शिवसेना सांसद संजय राउत का कहना है कि अयोध्या विवाद पर श्रीश्री रविशंकर के बयान को शिवसेना स्वीकार नहीं करती है। ऑर्ट ऑफ लिविंग के प्रमुख श्रीश्री रविशंकर ने कहा था कि अगर अयोध्या मसला नहीं सुलझा तो भारत का हाल भी सीरिया जैसा हो सकता है।

शिवसेना श्रीश्री के बयान को गलत बताया है। संजय राउत ने सवाल किया है कि ऐसे बयान देकर रविशंकर देश को कहां ले जाना चाहते हैं।

संजय राउत का कहना है कि श्रीश्री रविशंकर की ओर से यह बहुत ही गैर जिम्मेदाराना बयान है। राउत ने कहा, ‘मुझे लगता है श्री श्री रविशंकर का इस मामले से कोई संबंध नहीं है। जब बाबरी मस्जिद टूट रही थी. हम लोग वहां थे। मैं भी उसमें से एक था।

संजय राउत का मानना है कि सुब्रमण्यम स्वामी कोशिश कर रहे हैं, कोर्ट में उनकी लड़ाई चल रही है। बाहर भी काम चल रहा है। 10 लोग एक ही मुद्दे पर 10 मुंह से बोलेंगे तो मामला बिगड़ जाएगा।

राउत के मुताबिक सीरया वाली बात देश हित में नहीं है। जब-जब लोकसभा चुनाव आता है तो लोग ऐसी बात करते हैं। संजय राउत ने कहा कि रविशंकर को आगे करना किसी की चुनावी राजनीति है। यह देश सीरिया नहीं बनेगा। यह देश ऐसा नहीं है और अगर कोई ऐसी कोशिश करेगा तो शिवसेना बैठी हुई है।

संजय राउत ने कहा, ‘राम मंदिर बनना चाहिए हर कोई चाहता है। हर कोई इसका श्रेय लेना चाहता है, अगर आपको श्रेय है लेना है, तो लीजिए लेकिन हिंदुस्तान को सीरिया बनाने की बात गलत है।

आप एक बार फिर हिंदू-मुसलमान को बांट कर इस मामले में राजनीति करना चाहते हैं।’ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी मुखपत्र सामना में श्रीश्री रविशंकर के सीरिया वाले बयान की आलोचना की।

TOPPOPULARRECENT