Saturday , April 21 2018

रविशंकर, नड्डा सहित 33 में से सात केंद्रीय मंत्री दस राज्यों से राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित

बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, मध्य प्रदेश और राजस्थान में सभी उम्मीदवार राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुन लिए गए। राज्यसभा चुनाव के लिए नाम वापस लेने की गुरुवार को आखिरी तारीख थी। अतिरिक्त उम्मीदवार के मैदान में नहीं होने के चलते यहां मतदान की जरूरत नहीं पड़ी। निर्वाचित होने वालों में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, जेपी नड्डा और प्रकाश जावड़ेकर समेत सात केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं। देश के 16 राज्यों की 58 सीटों के लिए चुनाव का एलान किया गया था।

बिहार से छह सीटों के लिए भाजपा से केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, जदयू से वशिष्ठ नारायण सिंह और महेंद्र प्रसाद सिंह, राजद से मनोज झा और अशफाक करीम तथा कांग्रेस से अखिलेश प्रसाद सिंह चुने गए। इन सभी ने विधानसभा सचिव से अपनी जीत का प्रमाण पत्र लिया। महेंद्र सिंह सातवीं, वशिष्ठ नारायण तीसरी बार तो प्रसाद लगातार चौथी बार राज्यसभा सांसद बने हैं। राजद और कांग्रेस के सदस्य पहली बार उच्च सदन के लिए चुने गए हैं।

हिमाचल प्रदेश से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा निर्विरोध चुन लिए गए हैं। उनके खिलाफ कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा था। उत्तराखंड से भाजपा प्रवक्ता अनिल बलूनी निर्विरोध निर्वाचित हो गए हैं।

महाराष्ट्र में भाजपा नेता विजया रहाटकर के नाम वापस लेने के बाद चुनाव की स्थिति पैदा नहीं हुई। यहां भाजपा से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे, वी. मुरलीधरन के साथ ही कांग्रेस से वरिष्ठ पत्रकार कुमार केतकर, शिवसेना के अनिल देसाई और एनसीपी की वंदना चव्हाण को निर्वाचित घोषित किया गया।

TOPPOPULARRECENT