Monday , December 18 2017

रांची में अपार्टमेंट के तीन फ्लैटों में 35 लाख की डकैती

इतवार की अहले सुबह सफारी में आए मुजरिमों ने जगन्नाथपुर थाना इलाक़े के लटमा इलाके में डाका डाला। रोड नंबर नौ वाकेय शिवालय अपार्टमेंट के तीन फ्लैट में तड़के पौने तीन बजे से साढ़े चार बजे तक मुजरिम तांडव मचाते रहे। चहारदीवारी फांद कर अ

इतवार की अहले सुबह सफारी में आए मुजरिमों ने जगन्नाथपुर थाना इलाक़े के लटमा इलाके में डाका डाला। रोड नंबर नौ वाकेय शिवालय अपार्टमेंट के तीन फ्लैट में तड़के पौने तीन बजे से साढ़े चार बजे तक मुजरिम तांडव मचाते रहे। चहारदीवारी फांद कर अपार्टमेंट अहाते में घुसे मुजरिमों ने सबसे पहले गार्ड संजय प्रमाणिक को काबू में कर कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद उन्होंने कारोबारी अरिंदम चौधरी के फ्लैट नंबर 1-सी, रिटायर्ड अफसर भूतनारायण दास के 2-सी और एसबीआई अफसर कृष्ण कुमार सिंह के फ्लैट नंबर 1-डी में डाका डाला। मुजरिम नगद और जेवरात मिला कर 30 से 35 लाख की जायदाद लूट ले गए।

पौने दो घंटे तक तांडव मचाने के बाद मुजरिमों ने अपने ड्राइवर को फोन किया। तब सुबह साढ़े चार बजे सफारी वापस आई और मुजरिम आराम से वहां से निकल गए।

अपराधी सबसे पहले अरिंदम चौधरी के फ्लैट 1-सी में घुसे। अभी चौधरी चीन गए हैं। उनकी बीवी माला चौधरी हिनू में रह रही हैं। फ्लैट में ताला बंद था। मुजरिमों ने उसका ताला तोड़ा। अंदर घुसे और सोने की दो चेन, अंगूठी और कुछ नगदी लेकर बाहर निकल गए।

मुजरिमों ने इसके बाद रिटायर्ड अफसर भूतनारायण दास के फ्लैट 2-सी पर धावा बोला। दरवाजा तोड़ कर अपराधी अंदर घुसे। दास अभी गांव में हैं। फ्लैट में उनकी बीवी, बेटे राहुल और बेटी पूजा के साथ थीं। मुजरिमों ने पूजा को कब्जे में लिया और गोली मारने की धमकी दी। फिर उसे बेडशीट से बांध दिया। वहां दो लाख रुपए नगद और करीब 10 लाख के जेवरात मुजरिमों के हाथ लगे। करीब 45 मिनट तक मुजरिम फ्लैट में रहे। इस दौरान उन्होंने सेफ और अटैची तोड़ डाले।

अपराधी आखिर में पेटरवार (गोला) में तैनात स्टेट बैंक के अफसर कृष्ण कुमार सिंह के फ्लैट में पहुंचे। दरवाजा तोड़ कर मुजरिम अंदर घुसे और असलाह की ताक़त पर सभी को कब्जे में कर लिया। वहां से भी करीब दो लाख नगद, हीरे का हार, सोने का हार, चार अंगूठी समेत कई दीगर कीमती सामान मुजरिम ले गए।

वाकिया की इत्तिला मिलने के बाद सिटी एसपी जया राय, हटिया डीएसपी, जगन्नाथपुर थाना इंचार्ज और दीगर अफसर मौके पर पहुंचे। श्वान दस्ता भी पहुंचा। खोजी कुत्ते आसपास के इलाके में घूमे और फिर एक मुकाम पर बैठ गए। एफएसएल की टीम भी पहुंची। उसने तीनों फ्लैट के फिंगर प्रिंट लिए। तस्वीरें उतारीं और दीगर सुबूत जमा किया।

सिटी एसपी जया राय का दावा है कि मुजरिम गिरोह को जल्द दबोच लिया जाएगा। पुलिस मुजरिमों की खोज में जुटी है। इस सिलसिले में कई इलाकों में छापामारी की गई।

TOPPOPULARRECENT