Wednesday , June 20 2018

रांची में अपोलो की तामीर 3 माह में शुरू

शहर तरक़्क़ी सेक्रेटरी की धमकी भरी चिट्ठी के बाद अपोलो चेन्नई और मुंसिपल कॉर्पोरेशन के दरमियान एकरारनामा को लेकर चल रहे तनाजे का हल हो गया। अपोलो चेन्नई के प्रोजेक्ट हेड ब्रिगेडियर केआर चक्रवर्ती और मुंसिपल कॉर्पोरेशन के सीईओ मन

शहर तरक़्क़ी सेक्रेटरी की धमकी भरी चिट्ठी के बाद अपोलो चेन्नई और मुंसिपल कॉर्पोरेशन के दरमियान एकरारनामा को लेकर चल रहे तनाजे का हल हो गया। अपोलो चेन्नई के प्रोजेक्ट हेड ब्रिगेडियर केआर चक्रवर्ती और मुंसिपल कॉर्पोरेशन के सीईओ मनोज कुमार ने 30 साल के एकरारनामा पर दस्तखत किया।

कॉर्पोरेशन के पार्षदों ने वजीरे आला से इस मामले में मुदाखिलत की दरख्वास्त किया था। इसके बाद वजीरे आला ने महकमा को इसे देखने का हुक्म दिया था।

ब्रिगेडियर चक्रवर्ती ने कहा, अगले तीन महीने में अस्पताल की तामीर काम शुरू हो जाएगा। इसके 21 महीने बाद अस्पताल बनकर तैयार हो जाएगा। अस्पताल से मुंसिपल कॉर्पोरेशन को फाइदा का एक फीसद आमदनी मिलेगा। अस्पताल डोरंडा वाकेय घाघरा में 2.8 एकड़ जमीन पर बनेगा। इस सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल की तामीर पर तकरीबन 125 करोड़ रुपये खर्च होंगे। मुक़ामी लोगों को नौकरी में रिज़र्वेशन दिया जाएगा।

क्या-क्या होगा अस्पताल में

200 बेड होंगे।
झारखंड के बीपीएल खानदानों के लिए 10 फीसद सीटें रिजर्व ।
कार्डियक, न्यूरो, एंथ्रो, गैस्ट्रो और ट्रामा सेंटर।
डॉक्टर मुतल्लिक़ महकमा के माहेरीन होंगे।

TOPPOPULARRECENT