Thursday , June 21 2018

रांची यूनिवर्सिटी को 751.41 करोड़ रुपये के बजट पर मुहर

रांची यूनिवर्सिटी सिंडिकेट ने साल 2014-15 के लिए 751.41 करोड़ के बजट में कुछ तरमीम करते हुए इसमें मुहर लगा दी। बुध को दुबारा बैठक होगी। इस बैठक में फायनेंस मशावर्ती और फायनेंस अफसर को खुसुसि तौर से मौजूद रहने के लिए कहा गया है। सिंडिकेट से

रांची यूनिवर्सिटी सिंडिकेट ने साल 2014-15 के लिए 751.41 करोड़ के बजट में कुछ तरमीम करते हुए इसमें मुहर लगा दी। बुध को दुबारा बैठक होगी। इस बैठक में फायनेंस मशावर्ती और फायनेंस अफसर को खुसुसि तौर से मौजूद रहने के लिए कहा गया है। सिंडिकेट से मुहर लगने के बाद इसे हुकूमत के पास भेजने से पहले सात दिसंबर को मुनक्कीद सीनेट की बैठक में मंजूरी के लिए भेजा जायेगा।

मंगल को सिंडिकेट की बैठक कुलपति डॉ एलएन भगत की सदारत में हुई। इसमें यूनिवर्सिटी के 751.41 करोड़ रुपये के बजट में 241 करोड़ रुपये गैर मंसूबा मद के हैं। 160.39 करोड़ रुपये मंसूबा मद में रखे गये हैं। तंख्वाह मद में 157.83 करोड़ और पेंशन मद में 71.7 करोड़ रुपये का बंदोबस्त रखा गया है। हादसाती फ़ंड में 11.57 करोड़ रुपये की मांग की गयी है।

इस बजट में असातिज़ा और मुलाज़मीन के एरियर मद में 349.85 करोड़ रुपये की मांग की गयी है। इसमें असातिज़ा के लिए 131.85 करोड़ रुपये और मुलाज़मीन के लिए 110 करोड़, पेंशनरों के मद में 68 करोड़ और दीगर मद में 40 करोड़ का भी तजवीज है। बैठक में सीनेट में लाये जानेवाले सवालों की मंजूरी दी गयी है। इसमें तालिबे इल्म यूनियन इंतिख़ाब समेत असातिज़ा की प्रोमोशन, इंक्रीमेंट देने, देही असातिज़ा को शहर में मौका देने, असातिज़ा ट्रांसफर पॉलिसी बनाने, 2008 में तकर्रुरी असातिज़ा को प्रोमोशन देने, 2008 में तकर्रुरी असातिज़ा को पेंशन स्कीम लागू करने समेत दीगर सवाल शामिल हैं। बैठक में चांसलर डॉ एम रजिउद्दीन, रजिस्ट्रार डॉ एके चौधरी, प्रॉक्टर डॉ दिवाकर मिंज, डॉ आरपीपी सिंह, डॉ यूसी मेहता, रामचंद्र नायक, पवन साहू वगैरह मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT