Wednesday , December 13 2017

राजद लिडर बेवजह नहीं करें बयानबाजी : लालू

पटना : लालू प्रसाद ने महागंठबंधन के भीतर बयानबाजी के बाद अपोजीशन के तेज हुए हमले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने जहां अपने दल के नेताओं को बेवजह बयान देने से परहेज करने की नसीहत देते हुए कहा कि यदि उन्हें कोई बात दिखती हो तो हमसे साझा करें. उन्होंने कहा कि महागंठबंधन चट्टान की तरह मजबूत है.  
 
जो भी इस पर छैनी-हथौड़ा चलायेगा, उसका छैनी टूट जायेगा. उन्होंने लोजपा सदर रामविलास पासवान, जीतनराम मांझी और भाजपा लिडरों का नाम लेते हुए कहा कि आप कोमा में हैं. महागंठबंधन सरकार की मकबूलियत से अपोजीशन पूरी तरह हताश, उदास और मायूस है. हम आरएसएस, भाजपा, रामविलास पासवान और जीतन राम मांझी की महांगठबंधन को लेकर बेचैनी को बारीकी से देख रहे हैं.  हमारे यहां सब चुस्त-दुरस्त है, ये लोग बेवजह परेशान हैं. 
 
पासवान को डर है कि कहीं उनकी पार्टी और परिवार टूट ना जाये, इसलिए उन्हें सांत्वना देते रहते है कि यह सरकार ढाई साल चलेगी. उन्होंने विपक्ष से कहा कि महागठबंधन अटूट है. 
 
भ्रम मत फैलायें, आपको कोई फायदा नहीं होने जा रहा है.  आप सब थके और  हारे हुए लोग हैं. उन्होंने विधान सभा चुनाव को याद करते हुए  कहा कि उस  दौरान प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, आरएसएस और भाजपा ने बिहार में जंगलराज का दुष्प्रचार किया था  और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने की कोशिश की थी. लेकिन बिहार की न्यायप्रिय जनता ने आप सबों को झाड़ू से बुहार कर बाहर फ़ेंक दिया.  आप लोग छह महीना से कोमा में है, अपनी सांस संभालिये, लोगों को गुमराह मत करिये.   
 

TOPPOPULARRECENT