राजद से 16, जदयू से 14 और कांग्रेस से पांच वज़ीर बन सकते हैं

राजद से 16, जदयू से 14 और कांग्रेस से पांच वज़ीर बन सकते हैं
Click for full image

पटना : अब नई काबीना का ढांचा भी बनने लगा है। बहस है कि हरेक पांच एमएलए पर एक वज़ीर का फार्मूला रखा जाए। एसेम्बली इंतिख़ाब में राजद ने 80, जदयू ने 71 और कांग्रेस ने 27 सीटों पर कामयाबी हासिल की है। पांच एमएलए पर एक वज़ीर के फार्मूले की बुनियाद पर राजद से 16 वज़ीर, जदयू से वजीरे आला समेत 14 वज़ीर और कांग्रेस से पांच वज़ीर बनाए जा सकते हैं।

ये हो सकते हैं नीतीश के नए वजीर

जदयू : विजय कुमार चौधरी, विजेंद्र प्रसाद यादव, श्याम रजक, नरेंद्र नारायण यादव, लेसी सिंह, जय कुमार सिंह, पीके शाही ललन सिंह का वज़ीर बनना तय है। कायस्थ, ब्राह्मण इंतेहाई पसमानदा तबके को भी हिस्सेदारी दी जाएगी।
राजद : अब्दुल बारी सिद्दीकी, ललित यादव, सीताराम यादव, चंद्रशेखर, रामविचार राय, मो. नेमतुल्लाह, चंद्रिका राय, तेजप्रताप यादव, शिवचंद्र राम, आलोक मेहता, विजय कुमार विजय, अशोक सिंह, मो. इलियास हुसैन, मुद्रिका यादव, फैयाज अहमद, फैसल रहमान और अब्दुल गफूर।
कांग्रेस : अशोक चौधरी, सदानंद सिंह, अवधेश सिंह, अब्दुल जलील मस्तान, अशोक कुमार, अमिता भूषण, विजय शंकर दूबे और रामदेव राय में से ही वज़ीर बनाए जा सकते हैं।

Top Stories