Tuesday , September 18 2018

राजनाथ सिंह का दौरा पाकिस्तान पुरअमन रहने की तवक़्क़ो

नई दिल्ली 03 अगस्त: मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला राजनाथ सिंह के लश्करे तुयबा बानी हाफ़िज़ सईद की एहतेजाज की धमकीयों के पस-ए-मंज़र में मुजव्वज़ा दौरा पाकिस्तान के पेशे नज़र बीएसएफ़ ने कहा कि उसे यक़ीन हैके पाकिस्तान रेंजर्स और दुसरे हुक्काम इस मन्सूबे को नाकाम बनाने के लिए ख़ातिरख़वाह इक़दामात करेंगे।

बॉर्डर सेक्यूरिटी फ़ोर्स (बीएसएफ़) के सरबराह के शर्मा ने हाफ़िज़ सईद के एहतेजाज और वाघा सरहद तक मार्च के मन्सूबे को पाकिस्तानी सरज़मीन पर एक सियासी इक़दाम क़रार दिया। उन्होंने कहा कि दोनों ममालिक की सरहद की हिफ़ाज़त करने वाले हुक्काम इस मुआमले की नौईयत से बख़ूबी वाक़िफ़ हैं।

उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद में मुनाक़िद हो रही सार्क वुज़राए दाख़िला कांफ्रेंस को पुरअमन बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि हाफ़िज़ सईद का एहतेजाज का मन्सूबा पाकिस्तान का दाख़िली मुआमला है और उन्हें यक़ीन हैके पाकिस्तान रेंजर्स इस सूरत-ए-हाल से पूरी तरह निमट सकते हैं।

उन्हें इस बात का भी यक़ीन हैके हाफ़िज़ सईद की धमकी से सार्क मीटिंग में कोई ख़लल नहीं पड़ेगा। के के शर्मा पिछ्ले हफ़्ते ही पाकिस्तान में डायरेक्टर जनरल सतह की बाहमी मुज़ाकरात के बाद वापिस आए हैं।

TOPPOPULARRECENT