Wednesday , September 19 2018

राजस्थान में जबर्दस्त ठंड, तापमान माइनस पाइंट तक पहुंचा

जयपुर। कड़ाके की सर्दी और शीतलहर से राजस्थान का रेगिस्तान जमने लगा है। पूरा प्रदेश शीतलहर की चपेट में है और शेखावटी का रेगिस्तानी इलाका तो जैसे बर्फ की चादर बन गया है।

रविवार को इस मौसम की सबसे सर्द सुबह रही जब सीकर के फतेहपुर में पारा जमाव बिंदु से नीचे चला गया। फतेहपुर में तापमान माइनस में 0.8 डिग्री दर्ज किया गया है।

राजस्थान के चूरू में न्यूनतम तापमान 1.8 डिग्री दर्ज किया गया और शेखावटी के दूसरे हिस्से पिलानी जैसे रेगिस्तानी इलाकों में भी तापमान 1 से 2 डिग्री के बीच में रहा।

राज्य के कई इलाकों में उत्तर पूर्वी हवा के असर की वजह से शीतलहर का प्रकोप है। राजधानी जयपुर में धूप खिली, लेकिन सर्द हवाएं शरीर में नश्तर की तरह चुभ रही हैं।

इससे पहले माउंट आबू में भी ओस की बूंदें पिछले 1 सप्ताह से जमना शुरू हो गई हैं। हड्डी कंपा देने वाली सर्दी की वजह से राजस्थान में कोहरे का भी असर काफी रहा है, जिसकी वजह से 4 से 5 ट्रेनें रोजाना रद्द रही हैं।

रेलवे ने जम्मू की तरफ से आने वाली पूजा एक्सप्रेस को 17-18 दिसंबर को 2 दिन के लिए रद्द कर दिया है।

मौसम विभाग की मानें तो पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है जिसकी वजह से सर्द हवाएं राजस्थान के रेगिस्तान में पहुंच रही हैं। इस बीच अलवर में जबरदस्त सर्दी की वजह से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

राजस्थान सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि यहां बेघर लोगों के लिए रैन बसेरों का इंतजाम किया जाए।

TOPPOPULARRECENT