Friday , December 15 2017

राजस्थान में डॉक्टर हड़ताल पर : हालात बेहद खराब, अब तक 25 मौतें 12 से ज्यादा डॉक्टर हिरासत में

जयपुर : राजस्थान में हड़ताल पर गए दस हजार से ज्यादा डॉक्टरों के कारण बीते पांच दिन में 25 से ज्यादा मरीजों की मौत हो चुकी है। दम तोड़ते मरीजों के लिए अभी तक कोई राहत की खबर नहीं है। वहीं राजस्थान सरकार अब हड़ताली डॉक्टरों पर सख्त हो गई है। प्रदेश में रेस्मा लगाने के बाद बीते 24 घंटे के दौरान 12 से ज्यादा हड़ताली डॉक्टरों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस के भय से अधिकतर चिकित्सक नेता भूमिगत हो गए है।

सेना व रेलवे के डॉक्टरों की मदद के अतिरिक्त सेवानिवृत्त चिकित्सकों की सेवाएं भी ली जा रही है। वहीं राजस्थान के प्रमुख सात मेडिकल कॉलेजों के रेजिडेंट डॉक्टर के हड़ताल पर जाने के कारण मरीजों की परेशानियों में और अधिक ईजाफा हो गया है। इनमें जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, उदयपुर के कॉलेज प्रमुख है।

गौरतलब है कि बीते सोमवार से राजस्थान सेवारत चि​कित्सक संघ के दस हजार से ज्यादा डॉक्टर विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल पर है। इस दौरान सरकार से हुई कई दौर की वार्ता विफल रहने के बाद अब सरकार हड़ताली डॉक्टरों पर कार्रवाई कर रही है। वहीं शुक्रवार को राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर डॉक्टरों को कार्य पर बुलाने के लिए कहा है और कोर्ट ने सरकार ने हड़ताली चिकित्सकों की सूची भी मांगी है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ इस हड़ताल को राजनैतिक साजिश बताते हुए कुछ ​चिकित्सक नेताओं पर आरोप लगा रहे है। साथ सराफ ने शुक्रवार को कहा कि किसी भी चिकित्सक ने इस्तीफा नहीं दिया है। वे गलत बयानबाजी कर रहे है

TOPPOPULARRECENT