Thursday , December 14 2017

राजस्थान में वक्फ संपत्तियों पर अस्पताल, स्कूल, हॉस्टल और सामुदायिक भवन का होगी निर्माण

जयपुर: राजस्थान में वर्षों से बेकार वक्फ़ की अरबों की संपत्ति अब मुस्लिम समुदाय के काम आ सकेंगी। राज्य में क्लेयर टायटल वाली लगभग 60 से 70 वक्फ संपत्तियों को नाबार्ड स्कीम के तहत विकसित किया जाएगा और हर जिले में इन संपत्तियों पर जरूरत के अनुसार अस्पताल, हॉस्टल, स्कूल और सामुदायिक भवन आदि बनाए जाएंगे।

गौरतलब है कि राजस्थान में वक्फ बोर्ड की लगभग 20 हजार संपत्तियां हैं। वक्फ़ संपत्ति उन्हें कहा जाता है, जो किसी मुस्लिम के माध्यम से समाज के लिए समर्पित कर दिया जाता है। वैसे तो ऐसी संपत्तियों के रखरखाव और उनकी आय से मुस्लिम समाज को शिक्षा और विकास में लाभ पहुंचाने की जिम्मेदारी वक्फ बोर्ड की है, लेकिन लंबे समय से बोर्ड के अध्यक्ष और सदस्य बदलते रहे हैं, लेकिन कभी कुछ किया नहीं गया। हालांकि अब वक्फ बोर्ड ने राज्य में ऐसी वक्फ संपत्तियों को विकसित करने के लिए एक प्रस्ताव सरकार को भेजा है, ताकि उन पर काम किया जा सके।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

राजस्थान वक्फ बोर्ड के सदर अबू बकर नकवी का कहना है कि वर्तमान में नाबार्ड के माध्यम से राज्य के सभी 33 जिलों में वक्फ संपत्तियों के विकास की जाएगी, जो वक्फ बोर्ड की आय भी होगी और मुस्लिम समाज को शिक्षा और स्वास्थ्य से संबंधित सेवाओं में इसका लाभ भी पहुंचेगा। हर जिले में क्लेयर शीर्षक वाली एक दो तीन संपत्तियों को डोलप किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT