Monday , July 16 2018

राजिंदर नगर एम एलए प्रकाश गौड़ का जज़बा ख़ैर सगाली

हैदराबाद २२ अगस्त : ( नुमाइंदा ख़ुसूसी ) : रमज़ान उल-मुबारक में मुस्लमानों केजज़बा सिला रहमी नेकी अफ़व-ओ-दरगुज़र उखुवत-ओ-भाई चारगी और गुनाहों से गुरेज़जैसी ग़ैरमामूली सिफ़ात को देख कर हमारे दीगर बिरादरान वतन भी मुतास्सिर होते हैंख

हैदराबाद २२ अगस्त : ( नुमाइंदा ख़ुसूसी ) : रमज़ान उल-मुबारक में मुस्लमानों केजज़बा सिला रहमी नेकी अफ़व-ओ-दरगुज़र उखुवत-ओ-भाई चारगी और गुनाहों से गुरेज़जैसी ग़ैरमामूली सिफ़ात को देख कर हमारे दीगर बिरादरान वतन भी मुतास्सिर होते हैंख़ासकर रमज़ान उल-मुबारक के दौरान मुस्लमानों की जानिब से जो ख़ैर ख़ैरात की जाती है । ज़कवाৃ-ओ-फ़ित्रा की जिस अंदाज़ में तक़सीम-ए-अमल में आती है । ग़ैर मुस्लिमों के लिए ये एक ग़ैरमामूली अमल होता है ।

चुनांचे कई ऐसे ग़ैर मुस्लिम हज़रात भी हैं जो माहरमज़ान उल-मुबारक का बहुत एहतिराम करते हैं । वो रोज़ा दारों के सामने खाने से तक अहितराज़ करते हैं । राजिंदर नगर के तलगो देशम ऐम एलए प्रकाश गौड़ के बारे में भी कहा जाता है कि वो रमज़ान उल-मुबारक का काफ़ी एहतिराम करते हैं ये साल वो पाबंदी से ऐसे मुस्लिम भाईयों के लिए इफ़तार का एहतिमाम करते आए हैं लेकिन इस बार उन्हों ने अपने हलक़ा के एक ग़रीब शख़्स को टी वी ऐस गाड़ी दिलाई और दरगाह हज़रत जहांगीर पीरांऒ के लिए दो व्हेल चियर्स का इंतिज़ाम किया ताकि माज़ूर या चलने फिरने से क़ासिर ज़ाइरीन को मदद बहम पहुंचा सके ।

इन नेक कामों पर इज़हार इतमीनान करते हुए प्रकाश गौड़ ने बताया कि इस साल रमज़ान में वो दावत इफ़तार का एहतिमाम ना करसके क्यों कि इन की वालिदा फ़ौत होगईं थीं इस लिए ख़ानदान में एक साल तक कोई दावत नहीं की जाती लेकिन माह रमज़ान उल-मुबारक में दावत इफ़तार ना करने पर वो काफ़ी बेचैनी महसूस कररहे थे ।

इस लिए सोचा कि क्यों ना कोई नेक काम अंजाम दिया जाय । इस लिए उन्हों ने माला रदीव पली मुग़ल कॉलोनी के एक ग़रीब पलम्ब्बर मुहम्मद जहांगीर को 34 हज़ार रुपय मालियती टी वी ऐस गाड़ी दिलाई और वो ग़रीब शख़्स ईद के मौक़ा पर नई गाड़ी पाकर बहुत ख़ुश है । मुहम्मद जहांगीर बड़ी मुश्किल से सैक़ल पर फिरते हुए अपना काम करते थे । उन्हें गाड़ी हवाले करने के मौक़ा पर तलगो देशम लीडर शेख़ फ़हीम केइलावा दीगर क़ाइदीन की कसीर तादाद मौजूद थी ।।

TOPPOPULARRECENT