Tuesday , December 19 2017

राजीव गांधी की यौमे पैदाइश पर दिल्ली में तमानियत ग़ज़ा स्कीम का शुरूआत‌

सियासी खेल का मंज़र तबदील करनेवाली तमानियत ख़ुराक बिल को पार्लीमेंट में मंज़ूरी में ताख़ीर की परवाह किए बगै़र कांग्रेस की सदर सोनिया गांधी ने साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म आँजहानी राजीव गांधी के यौमे पैदाइश के मौके पर क़ौमी दार-उल-हकूमत नई दिल्ली में आज इस स्कीम का शुरूआत‌ किया।

मिस गांधी ने इस स्कीम की भरपूर सताइश करते हुए कहा कि अपनी नौईयत की मुनफ़रद स्कीम है जिस की दुनिया भर में कोई मिसाल नहीं मिलती। कांग्रेस के ज़ेर इक़तिदार तीन रियास्तों दिल्ली, हरियाणा और उतराखंड में तमानियत ख़ुराक स्कीम शुरू करदी गई है। सोनिया गांधी ने कहा कि इस स्कीम से आम आदमी की ज़िंदगी में इन्क़िलाब आएगा।

पार्लीमेंट में इस बिल की मंज़ूरी में अपोज़ीशन जमातें मुसलसल रुखना अंदाज़ी कररही हैं। अपोज़ीशन जमातों ने आज भी इस बिल पर बहस के बजाय कोयला बलॉक तहकीकात की फाईलों की गुमशुदगी को पार्लीमेंट में बहस का मौज़ू बनाया। दिल्ली में एक तक़रीब में मिस सोनिया गांधी ने इस्तिफ़ादा कुनुन्दगान में ग़ज़ाई अशिया तक़सीम कीं।

इस मौके पर दिल्ली की चीफ़ मिनिस्टर शीला दिक्षित‌ और दीगर मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पार्लीमेंट में बिल की मंज़ूरी को यक़ीनी बनाया जाएगा। जिसके बाद सारे मुल्क में ये स्कीम नाफ़िज़ होजाएगी और 87 फ़ीसद आबादी इससे इस्तिफ़ादा है।

TOPPOPULARRECENT