Friday , November 24 2017
Home / India / राजीव गांधी के कातिलों की फांसी की सजा उम्रकैद में तब्‍दील

राजीव गांधी के कातिलों की फांसी की सजा उम्रकैद में तब्‍दील

एक बड़ी खबर.... मुल्क की सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है..देश के साबिक वज़ीर ए आज़म राजीव गांधी के कत्ल के तीन मुल्ज़िमों की फांसी की सजा को अब उम्रकैद में तब्दील कर दी गयी है।

एक बड़ी खबर…. मुल्क की सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है..देश के साबिक वज़ीर ए आज़म राजीव गांधी के कत्ल के तीन मुल्ज़िमों की फांसी की सजा को अब उम्रकैद में तब्दील कर दी गयी है।

पिछले काफी दिनो से इन तीनों मुल्ज़िमो की रहम की दरखास्त ज़ेर ए गौर थी। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि कोई भी हुकूमत किसी भी फांसी के मुजरिम की रहम की दरखास्त को एक साल से ज्यादा पेंडिंग ( ज़ेर ए गौर ) नहीं रख सकती है ऐसे में अगर उसकी रहम की दरखास्त ज़ेर ए गौर होती है तो उसकी सजा फांसी से उम्रकैद में तब्दील हो जायेगी और इसलिए साबिक वज़ीर ए आज़म राजीव गांधी के कत्ल के मुल्ज़िम मुरुगन, अरिवू और संथन को अब फांसी की जगह उम्रकैद होती है।

वैसे अपने फैसले में सुप्रीमकोर्ट ने दो और अहम बात कही है कि अगर फांसी की सजा पाना वाला शख्स ज़हनी तौर पर परेशान है तो भी उसे फांसी नहीं हो सकती है और अगर फांसी की सजा पाये मुल्ज़िम को अकेले जेल में रखना भी गैर आइनी है।

मालूम हो कि राजीव गांधी के कत्ल के मुल्ज़िम मुरुगन, अरिवू और संथन तीनों साल 2004 से कर्नाटक की जेल में बंद हैं।

TOPPOPULARRECENT