राजीव गांधी हत्या की दोषी नलिनी श्रीहरन ने लगाई रिहाई की गुहार

राजीव गांधी हत्या की दोषी नलिनी श्रीहरन ने लगाई रिहाई की गुहार
Click for full image

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के हत्या की दोषी नलिनी श्रीहरन ने एक बार फिर राष्ट्रीय महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया है। नलिनी ने जेल में अपने 25 साल पूरे करने पर महिला आयोग को पत्र लिखकर रिहाई की अपनी रिहाई की मांग की है। नलिनी ने 22 अक्टूबर को राष्ट्रीय महिला आयोग को एक पत्र लिखी है जिसमें उन्होंने कहा है कि सजा हुए 25 साल हो चुके हैं इसलिए रिहाई दी जाए। नलिनी ने अपनी पत्र में विदेश में रहने वाली अपनी बेटी से भी मिलने की इच्छा जताई है। अपने पत्र में उन्होंने दूसरी महिलाओं की रिहाई का भी जिक्र किया है। नलिनी ने लिखा है कि जब वह दूसरी महिलाओं को खास मौकों पर रिहा होते हुए देखती है तो उसका भी मन करता है कि वह खुली हवा में सांस लें। मेरा हर दिन आंसुओं के बीच बीतता है। मैं ऐसी जिंदगी से तंग आ चुकी हूं।

नलिनी के वकील पी. पुगाझेंथी ने कहा कि वह सबसे लंबे समय से जेल में कैद महिला है। इस संबंध में उसने महिला आयोग को लिखा है। अगर तमिलनाडु सरकार ने संविधान के प्रावधानों का पालन किया होता तो वो पहले ही रिहा हो गई होतीं। पुगाझेंथी ने कहा कि साल 2000 में महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद ही नलिनी की फांसी की सजा को उम्रकैद में बदला गया था। गौरतलब है कि पिछले दो महीनों में उनकी यह दूसरा है जिसे उन्होंने महिला आयोग को लिखा है। नलिनी देश की पहली ऐसी महिला है, जिसने सजा के तौर पर जेल में 25 साल पूरे किए हैं।

Top Stories